Tuesday , March 19 2019
Home / क्राइम / दिल्ली: CM केजरीवाल से मिलने पहुंचे शख्स के पास मिला जिंदा कारतूस

दिल्ली: CM केजरीवाल से मिलने पहुंचे शख्स के पास मिला जिंदा कारतूस

नई दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की सुरक्षा में बड़ी चूक टल गया है. सोमवार सुबह सीएम केजरीवाल से मिलने पहुंचे एक शख्स के पास से जिंदा कारतूस बरामद किया गया है. बरामद हुआ कारतूस 32 एमएम का है. सीएम की सुरक्षा में लगे सुरक्षाकर्मियों का कहना है कि मंगलवार को एक शख्स सीएम योगी से मिलने पहुंचा था, तभी उसके पास से जिंदा कारतूस बरामद किया गया. उस शख्स को एंट्री गेट पर ही रोक दिया गया.

पुलिस के मुताबिक सोमवार सुबह 10-12 लोग मुख्यमंत्री केजरीवाल से मिलने पहुंचे थे. इन सभी लोगों को सीएम ने मिलने का समय दिया था. ये लोग मौलवी थे और वक्फ बोर्ड से सैलरी बढ़ाने की मांग को लेकर मुख्यमंत्री केजरीवाल से मुलाकात करने आए थे. इनमें से इमरान नाम का शख्स जो नमाज़ से पहले मस्ज़िद की साफ सफाई का काम करता है, उसके पास से चेकिंग के दौरान कारतूस बरामद हुआ है.

इमरान ने पुलिस को पूछताछ में बताया है कि उसे ये कारतूस मस्ज़िद के डोनेशन बॉक्स में मिला था, जिसे उसने वॉलेट में रख लिया था और फिर रखकर भूल गया. पुलिस ने उसे आर्म्स एक्ट के तहत गिरफ्तार किया है और जांच कर रही है.

अगर प्रधानमंत्री दिल्ली के मुख्यमंत्री को सुरक्षा नहीं दे सकते तो इस्तीफा दें: केजरीवाल

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से कहा कि अगर वह उनकी सुरक्षा सुनिश्चित नहीं कर सकते तो प्रधानमंत्री को इस्तीफा दे देना चाहिए. केजरीवाल ने यह टिप्पणी ऐसे समय की जब कुछ दिन पहले एक व्यक्ति ने दिल्ली सचिवालय के अंदर उन पर मिर्च पाउडर फेंका था. दिल्ली विधानसभा के एकदिवसीय विशेष सत्र में केजरीवाल ने आरोप लगाया कि भाजपा 20 नवंबर के हमले के लिए जिम्मेदार है क्योंकि राष्ट्रीय राजधानी में उनकी सरकार द्वारा किये गये ‘‘अच्छे काम’’ से वह ‘‘परेशान’’ है.

केजरीवाल ने सदन में कहा, ‘अगर नरेंद्र मोदी दिल्ली के मुख्यमंत्री को सुरक्षा नहीं दे सकते तो उन्हें इस्तीफा दे देना चाहिए.’ विधानसभा की बैठक आप प्रमुख पर हमले और मतदाता सूची से नाम कथित रूप से हटाए जाने के मुद्दों पर चर्चा के लिए आयोजित की गई. कार्यालय के बाहर हुई इस घटना के बाद केन्द्रीय गृह मंत्री के फोन कॉल का जिक्र करते हुए केजरीवाल ने दावा किया ‘मैंने कहा कि या तो आपका कोई महत्व नहीं है या आपकी मिलीभगत है.’

निर्वाचित सरकार के प्रति दिल्ली पुलिस की जवाबदेही सुनिश्चित करने के एक सरकारी प्रस्ताव पर केजरीवाल ने कहा कि 95 फीसदी पुलिसकर्मी अच्छे हैं लेकिन ‘‘भाजपा द्वारा उनसे गलत काम कराए जा रहे हैं.’ उन्होंने कहा, ‘अगर दिल्ली पुलिस दिल्ली की निर्वाचित सरकार के अधीन आ जाती है तो यह जनता की भलाई के लिए काम करना शुरू कर देगी.’ मुख्यमंत्री ने अपनी पार्टी के विधायकों को सरकार की मुआवजा योजना से दिल्ली पुलिस को बाहर रखने की मांग वाले उनके प्रस्ताव को वापस लेने की सलाह दी.

About RITESH KUMAR

Check Also

23 मई को कौन मनायेगा दिवाली?

23 मई यानी कैलेंडर ईयर का 143 वां दिन. 23 मई 2019 को दुनिया के …