Thursday , October 18 2018
Home / क्राइम / सुलतानपुर: अवंतिका होटल संचालक पर फायरिंग के मामले में आरोपी के मददगार को मिली जमानत

सुलतानपुर: अवंतिका होटल संचालक पर फायरिंग के मामले में आरोपी के मददगार को मिली जमानत

रिपोर्टर: अमरजीत पांडेय
  • गैर इरादतन हत्या व लूट के मामले में दो आरोपियों को जेल भेजा गया

सुल्तानपुर (अमरजीत पांडे): बहुचर्चित अवंतिका फूड मॉल गोली कांड के मुख्य आरोपी को संरक्षण देने समेत तीन मामलों में आरोपियों को गिरफ्तार कर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट की अदालत में पेश किया। गोली कांड से जुड़े आरोपी को पुलिस की लचर कहानी के चलते तुरंत ही जमानत मिल गयी, वहीं अन्य दो आरोपियों की रिमांड स्वीकृत कर सीजेएम आशा रानी सिंह ने उन्हें न्यायिक हिरासत में जेल भेजने का आदेश दिया है।

इसी शख्स ने अवंतिका के मालिक पर गोली चलाई

पहला मामला कोतवाली नगर थाना क्षेत्र स्थित अमहट इलाके से जुड़ा है। जहां की घटना दर्शाते हुए कोतवाली के एसएसआई रणजीत सिंह ने आरोपी मुमताज पुत्र निसार अहमद निवासी पल्टन बाजार के खिलाफ अवंतिका फूड मॉल के मालिक आलोक आर्य पर हुए जानलेवा हमले के मुख्य आरोपी सत्यप्रकाश सिंह को संरक्षण देने व उसकी मदद करने के आरोप में मुकदमा दर्ज किया है।

ऐसे दिया गया था वारदात को अंजाम

पुलिस ने मुमताज के पास से छोटे-मोटे सामानों की बरामदगी भी दर्शाइ है। पुलिस रिपोर्ट के मुताबिक मुमताज ने गोली कांड के आरोपी के लिए बरामद सामान ले जाने की बात कबूल की है, लेकिन सत्यप्रकाश कहां है और उसकी मदद के लिए मुमताज इन सामानों को लेकर कहां जा रहा है, इसके विषय में कोई जानकारी पुलिस ने मुमताज से लेना या तो जरूरी नही समझा या फिर यह जानकारी उगलवा ही  नही सकी।

घटना की जानकारी देता अवंतिका का एक कर्मचारी

पुलिस ने अपनी सक्रियता दिखाने के लिए अन्य बातों को तो एफआईआर में बढ़ चढ़कर दिखाया है,लेकिन सत्य प्रकाश से जुड़ी आवश्यक जानकारियों के पूंछताछ के संबंध में अपनी एफआईआर में औपचारिक जिक्र भी नही किया है, ऐसे में लगता है कि पुलिस सत्यप्रकाश सिंह को गिरफ्तार करना ही नहीं चाहती है और  महज पुलिस को सतर्क दिखाने के लिए मनगढ़ंत कहानियों का सहारा लेकर आए दिन कार्यवाहियां करती जा रही है। जबकि गोली कांड के असल आरोपियों तक पुलिस पहुंच ही नहीं पा रही है। फिलहाल इस मामले में आरोपी मुमताज को सीजेएम की अदालत में पेश किया गया। जिसमे पुलिस की लचर कहानी के चलते मुमताज को तुरंत ही जमानत मिल गई। ऐसे में पुलिस की इन कार्यशैलियो के चलते अपराध का बढ़ना स्वाभाविक ही है।

दूसरा मामला कोतवाली देहात थाना क्षेत्र के धरौली गांव से जुड़ा है।जहां के रहने वाले रामनारायन ने आरोपी सुभाष कुमार निवासी गोपालपुर-लंभुआ के खिलाफ गैर इरादतन हत्या सहित अन्य आरोपो में मुकदमा दर्ज कराया है, इस मामले में अदालत ने आरोपी की रिमांड स्वीकृत कर उसे जेल भेजने का आदेश दिया है। तीसरा मामला कोतवाली नगर क्षेत्र से जुड़ा है। जहां के रहने वाले प्रमोद शर्मा ने बीते बुधवार की घटना बताते हुए बाइक लूट के संबंध में मुकदमा दर्ज कराया, जिसमें पुलिस ने प्रकाश में आरोपी सोनू निषाद निवासी हेमनापुर थाना बल्दीराय को गिरफ्तार कर सीजेएम कोर्ट में पेश किया। अदालत ने सोनू की रिमांड स्वीकृत कर उसे 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेजने का आदेश दिया है।

About KOD MEDIA

Check Also

नमस्ते इंग्लैंड” के लिए अक्षय कुमार ने दिया एक खास संदेश!

सुपरहिट फ़िल्म नमस्ते लंदन के साथ दर्शकों का मनोरंजन करने के बाद, निर्देशक और निर्माता …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *