Sunday , February 24 2019
Home / क्राइम / बैंक शातिर चोर गिरफ्तार,झाझा

बैंक शातिर चोर गिरफ्तार,झाझा

(झाझा):- झाझा थाना अन्तर्गत बैंक ग्राहकों का पीछा कर हथियार के बल पर लूटने वाला शातिर अपराधी को पुलिस ने आखिर गिरफ्तार कर ही लिया। गिरफ्तार अपराधी जिसका नाम चंदन तिवारी है। चंदन बरौनी का रहने वाला है। गिरफ्तार चंदन भागलपुर जिले के अपने दो सहयोगियों के साथ बिहार के कई जिलों में जा कर बैंक ग्राहकों को अपना निशाना बनाया करता था।

कई बार झाझा में भी बैंक ग्राहकों के साथ लूट की वारदात को अंजाम दे चुका है। जिसके लिए इस लूटेरे की तलाश में झाझा पुलिस कई महीनों से खोज बीन कर रही थी। बुधवार की शाम प्रेस वार्ता के दौरान झाझा एसडीपीओ भाष्कर रंजन ने बताया कि कुछ महीने पूर्व झाझा यूको बैंक से पैसा निकाल कर जा रहे थे।

उस ग्राहकों को पीछा कर उससे भी पैसा झपट कर फरार हो गया था। जब बैंक का सीसीटीवी फुटेज की छानबीन की गई थी। तो अपराधी बैंक के बाहर खड़ा होकर किसी का इंतज़ार करता दिखा था। साथ ही उन्होंने बताया कि सीसीटीवी फुटेज के आधार पर छानबीन की जा रही थी

कि अचानक 5 नवम्बर सोमवार को झाझा मुख्यालय स्थित एक रोड में अकेला घूमता हुआ एक युवक पर जब पुलिस की नज़र पड़ी तो पुलिस को आता देख चंदन के शरीर में कुछ हरकतें दिखाई दी तो पुलिस ने शक के आधार पर युवक से पूछ-ताछ शुरू कर दी।

साथ ही जब युवक की तलाशी ली गई तो उसके पास से एक पिस्टल, दो जिंदा कारतूस, एक मोबाइल, बैंक पर्ची सहित कुछ रुपये कैश बरामद हुए।
कहा जा रहा है कि जब पुलिस ने चंदन को गिरफ्तार किया तो पूछ-ताछ में चंदन ने सारी जुर्म को कबूल कर लिया।

गिफ्तार अपराधी चंदन ने बताया कि उसके साथ दो अन्य सहयोगी जो भागलपुर जिले के हैं जो उसके  साथ काम करता है। इतना सुनते ही पुलिस ने चंदन को जब फोन कर के अपने दो सहयोगियों को बुलाने के लिए कहा तो चंदन ने फोन लगाई और फोन पर बुलाया और साथ ही एक कोड भाषा “बसाई” का इस्तेमाल कर दिया। जो पुलिस के समझ से परे निकली।

एक ओर से पुलिस दो और सहयोगियों के आने की इंतज़ार काफी बेसब्री से कर रही थी। जब कई घंटे बीत जाने के बाद दोनो अपराधी नहीं आये तो पुलिस ने फिर चंदन से पूछा कि इतना देर होने के बाद भी अभी तक दोनो नहीं आये क्या बात है। फिर से फोन करो।

तब चंदन ने कहा कि वो दोनो अब नहीं आएंगे तो पुलिस सोंचने पर मजबूर हो गई। कि चंदन तो मेरे सामने ही फोन कर के दोनो को बुलाया था। तब चंदन ने बताया कि उसने “बसाई” शब्द का प्रयोग फोन पर किया था। जिसका मतलब होता है कि भाग जाओ। जिसे पुलिस समझ नहीं पाई।कहा जा रहा है कि चंदन अपने दो सहयोगियों के साथ बैंक ग्राहक से पैसा लूटने का कारोबार कई वर्षों से करता चलाते आ रहा है।

लूट का मास्टर माइंड चंदन इस क्षेत्र में परिपक्व हो चुका था। जो अपना पेशा बनाये बैठा था। लेकिन पुलिस ने चंदन की चालाकी को ध्वस्त करते हुए गिरफ्तार कर ली है। वहीं आगे झाझा एसडीपीओ भाष्कर रंजन ने बताया कि चंदन के पकड़े जाने के बाद इस इलाके में बैंग ग्राहकों से लूट की घटना पर अंकुश लगा है।आगे उन्होंने बताया कि बहुत जल्द ही चंदन के दो सहयोगी को भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा।।

रिपोर्टर बिनय कुमार

About Binay Kumar Yadav

Check Also

ब्राजील: आध्यात्मिक गुरु पर यौन शोषण के आरोप

ब्राजील में अनेक महिलाओं ने जाने-माने एक स्वयंभू आध्यत्मिक बाबा पर अवसाद तथा अन्य समस्याओं …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *