Saturday , February 16 2019
Home / खेल / रमेश पोवार से विवाद के बाद BCCI ने शुरू की महिला टीम के लिए नए कोच की तलाश

रमेश पोवार से विवाद के बाद BCCI ने शुरू की महिला टीम के लिए नए कोच की तलाश

नई दिल्ली:  टी 20 महिला क्रिकेट वर्ल्ड कप में भारतीय टीम की हार और कोच रमेश पोवार पर हुए विवाद के बाद BCCI (भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड) ने नए कोच की तलाश शुरू कर दी है. बीसीसीआई ने ऐसे उम्मीदवारों को आवेदन देने को कहा है जो सीनियर महिला टीम का कोच बनना चाहते हैं. हालांकि रमेश पोवार का कार्यकाल आज ही खत्म हो रहा था जिसके बाद क्रिकेट बोर्ड ने उनकी नियुक्ति को आगे बढ़ाने में विवाद की वजह से कोई दिलचस्पी नहीं दिखाई. गौरतलब है कि मिताली राज ने कोच रमेश पोवार पर निशाना साधते हए उनपर भेदभाव करने का आरोप लगाया. मिताली ने अपने ईमेल में लिखा, कोच ने मुझे कहा ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ होने वाले मैच में मैदान पर भी मत आना और फिर कहा टीम से बाहर होकर और ड्रॉप होकर कैसा महसूस हो रहा है.

इसके बाद मिताली राज ने बीसीसीआई के प्रशासकों की समिति (सीओए) डायना एडुलजी पर भी पद का दुरुपयोग करने का आरोप लगाया. एडुलजी को लेकर मिताली ने लिखा, उन्होंने मुझे बुलाया और मेरी पीठ में छुरा घोंपने वाला काम किया. उन्होंने जो किया उसे कहीं से भी उचित नहीं ठहराया जा सकता.

बीसीसीआई के सीईओ राहुल जोहरी और क्रिकेट संचालन महाप्रबंधक सबा करीम को लिखे ईमेल में कहा, मेरे 20 साल के लंबे करियर में मैंने पहली बार अपमानित महसूस किया. मुझे यह सोचने पर मजबूर होना पड़ा कि देश के लिए मेरी सेवाओं की अहमियत सत्ता में मौजूद कुछ लोगों के लिए है भी या नहीं या वो मेरे आत्मविश्वास को ही खत्म कर देना चाहते हैं.

मिताली राज ने अपने ईमेल में टी 20 महिला टीम की कप्तान हरमनप्रीत पर भी हमला बोला और कहा, टी 20 विश्वकप के सेमीफाइनल में फिट होने के बावजूद भी अंतिम 11 से मुझे बाहर कर दिया गया. सेमीफाइनल में टीम की 8 विकेट से करारी हार हुई और कप्तान हरमनप्रीत कौर इसे फैसले को सही ठहराती हुई दिखीं.

विवाद के बाद इस मामले में अपना जवाब देने के लिए पोवार ने बीसीसीआई सीईओ राहुल जोहरी और महाप्रबंधक (क्रिकेट संचालन) सबा करीम से मिले थे. पोवार ने मुंबई में बीसीसीआई मुख्यालय में बोर्ड के दोनों अधिकारियों से मुलाकात की थी.

 

बीसीसीआई के एक सूत्र ने गोपनीयता की शर्त पर बताया था कि, ‘रमेश ने स्वीकार किया कि मिताली के साथ उनके पेशेवर रिश्ते तनावपूर्ण हैं क्योंकि उन्हें हमेशा लगा कि वह अलग थलग रहने वाली खिलाड़ी है और उसे संभालना मुश्किल है.’

हालांकि अधिकारी ने कहा कि पोवार ने बताया कि मिताली को सेमीफाइनल से बाहर करना बदले की भावना नहीं बल्कि रणनीति का हिस्सा था. इंग्लैंड ने इस मैच में भारत को आठ विकेट से हराया था. अधिकारी ने कहा, ‘उन्होंने कहा कि खराब स्ट्राइक रेट के कारण उन्हें इंग्लैंड के खिलाफ मैच से बाहर किया गया. इसके अलावा टीम प्रबंधन पिछले मैच में जीत दर्ज करने वाली टीम को बरकरार रखना चाहता था.’

About MD MUZAMMIL

Check Also

टोटल धमाल’ के निर्माता ने कई भाषाओं में किया ट्रेलर लॉन्च’

‘धमाल’ फ्रेंचाइजी की तीसरी किस्त ‘टोटल धमाल’ दर्शकों को अधिक से अधिक हंसाने के अपने …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *