Tuesday , August 22 2017
Home / मनोरंजन / बॉलीवुड / खूद पर विश्वास होनी चाहिए-अदिति पाँल

खूद पर विश्वास होनी चाहिए-अदिति पाँल

अदिति पाँँल बाहुबली2 वीरों के वीर आ का गाना सुने होंगे तो अदिति की सुरीली आवाज आप भुल नही सकते। भले ही अदिति ने बाँलीवुड मे कुछ चुनिंनदे गाना गाया हों पर इस मुकाम तक पहुंचने के लिए उन्होंने कड़ा संघर्ष किया।

इन दिनों वे फिल्म बाहुवली2’ में 2 वीरों के वीर आ को ले कर काफी चर्चा में हैं।इसी दौरान khabarOnDemand.com के संवाददाता मो. मुजम्मिल और अदिती से खुलकर बात हुई।

अपने कैरियर को आप किस तरह से देखती हैं?

– मझे लगता है कि मेरा कैरियर सही दिशा की ओर अग्रसर है. इस की मुख्य वजह यह है कि मैं बहुत ही चुनिंदा काम कर रही हूं. श्रोताओं को जिस तरह के गाने पसंद आ रहे हैं।

आप गानो को किस तरह से लेती है?
– मुझ और दूसरे गायकों में बहुत बड़ा फर्क है। मैं सिर्फ अपने काम पर ध्यान देती हूं.और जिस तरह का गाना मिलता है उस तरह से गा लेती हु।मेरे लिए गाना ही सब कुछ है। दूसरे गायकों की तरह मैं भी स्टेज शो करती हूं और रिऐलिटी शो में भी हिस्सा लेती हूं.

गानों का चयन किस आधार पर करती हैं?

– हकीकत यही है कि अभी तक मैं उस मुकाम पर नहीं पहुंची जहां मैं खुद गानों का चयन कर सकूं।परिवार में आप का सब से बड़ा आलोचक कौन है?

– मेरी मां मेरी सब से बड़ी आलोचक हैं. आज मैं जिस मुकाम पर पहुंची हूं मेरे मां और पापा अफजाई से ही संभव हो पाया है.

आप किस गायक की फैन हैं?

– लता मंगेशकर, आशा भोंसलें की गाना सुनना पसंद करती हु।

आप बदमास बच्चा थी?
-बिल्कुल मुझेे पढ़ने मे मन नही लगता था।हमेशा कुछ न कुछ खुरफाती करती थी।इसी हरकत मे मेरा एक बार हाथ भी टुट चुका है।

बचपन की यादें जो अभी आपको अभी भी जहन में है?
-मेरी बचपन की यादें ही यादें है,जब मै एक तो मै बहुत ही बदमास थी इसके लिए मुझे छोटी सी उम्र मे ही घर से ही भेजना पढ़ा था, शान्ति निकेतन।वो पल मुझे अभी भी याद है,जब हमलोग पेड़ के नीचे पढ़ाई करते थे।वहां का माहौल मुझे अच्छा लगता था।जब आपको पता चला बाहुवली जैसी फिल्म मे आपको गाने का मौका मिला तो उस समय आपका रिएेक्सन कैसा था?

-बहुत ही अच्छा था। ये इतनी बड़ी फिल्म है,बहुत लोगों ने इस फिल्म के लिए मेहनत की है।और इतनी बड़ी फिल्म की हिस्सा बनकर बहुत खुश हु।

About खबर ऑन डिमांड ब्यूरो

Check Also

फिल्म ‘एमएसजी ऑनलाइन गुरुकुल’ का पोस्टर रिवील

सिरसा। डाॅ. एमएसजी के नाम से मशहूर संत डॉ. गुरमीत राम रहीम सिंह जी इंसां …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *