Sunday , February 24 2019
Home / देश / सिविल सेवा परीक्षा: चाणक्या आईएएस एकडेमी के छात्रों ने नयी उंचाई को छुआ

सिविल सेवा परीक्षा: चाणक्या आईएएस एकडेमी के छात्रों ने नयी उंचाई को छुआ

पंकज मिस्त्री (हजारीबाग ): सिविल सेवा परीक्षा 2017 के परिणाम में अब तक के आंकड़ों के मुताबिक कुल 909 उम्मीदवारों में से, 355 से ज्यादा विद्यार्थी देश भर के विभिन्न शहरों से चयनित हुए है, जो देश के प्रतिष्ठित कोचिंग संस्थानों में से एक चाणक्य आईएएस एकेडमी के हैं।

चाणक्या आईएएस एकेडमी के लिए हर्ष की बात है कि सिविल सेवा परीक्षा के परिणामों में एक बार फिर चाणक्य आईएएस एकेडमी द्वारा प्रशिक्षित छात्रों ने नयी उंचाई को छुआ है। 5 छात्र चाणक्य आईएएस एकेडमी के शीर्ष 10 में रहेः AIR 4 अतुल प्रकाश, AIR 6 कोया श्री हर्षा, AIR 7 आयुष सिन्हा, AIR 8 अनुभव सिंह और AIR 9 सौम्या शर्मा ने अपना स्थान बनाया है। शीर्ष 50 में से 22 और 41 छात्रों ने शीर्ष 100 में पद हासिल किया। देश भर के विभिन्न चाणक्या आईएएस एकेडमी के केंद्रों में प्रशिक्षित छात्रों ने एक बार फिर से सिविल सेवा परीक्षा 2017 के नतीजे में अपना परचम लहराया है।

चाणक्य आईएएस अकादमी के संस्थापक चेयरमैन सक्सेस गुरु एके मिश्रा ने इस परिणाम को संस्थान के पेशेवर शैक्षणिक तौर तरीके को सफलता का मूल मंत्र माना है, जिससे छात्रों को सिविल सेवक बनने में और अपने सपनों को साकार करने में भरपूर मदद मिली।

चाणक्या आईएएस एकेडमी के संस्थापक चेयरमैन सक्सेस गुरु एके मिश्रा ने कहा कि देश में बड़ी क्षमता वाले छात्र हैं, लेकिन कई वित्तीय कठिनाइयों के कारण अपनी प्रतिभा को सफल बनाने में सक्षम नहीं हैं। चाणक्य आईएएस एकेडमी में, हम इस तरह की प्रतिभा की पहचान करने और यह सुनिश्चित करने के लिए भी प्रयास करते हैं कि वित्तीय बाधाएं उनके सफलता में रूकावट न बनें।

अब तक के आंकड़ों के मुताबिक झारखंड से चाणक्या आईएएस एकेडेमी के 11 अभ्यार्थियों ने सिविल सेवा में इस बार अपना परचम लहराया है।  शीर्ष 50 में 3 और शीर्ष 100 में 4 अभियार्थी ने अपना स्थान AIR 13, AIR 19, AIR 44 और AIR 79 से हशील किया है.

एकेडमी के संस्थापक चेयरमैन सक्सेस गुरु एके मिश्रा झारखंड के हजारीबाग बड़कागांव (गांव लंगातु) के रहने वाले है, यही वजह है कि सक्सेस गुरु झारखंड के प्रतिभा को निखारने के लिए खासतौर से समर्पित रहते है।

चाणक्य आईएएस अकादमी की स्थापना वर्ष 1993 में संस्थापक और प्रबंध निदेशक सक्सेस गुरु एके मिश्रा ने की थी। उत्कृष्टता के 25 से अधिक वर्षों के साथ, एकेडमी ने देश में 4000 से अधिक सिविल सेवक देश को  दिए है। एकेडमी का मुख्यालय नई दिल्ली सहित देश भर में 21 अध्ययन केंद्रों में संचालित है। 2 नई दिल्ली में, अहमदाबाद, पुणे, जयपुर, चंडीगढ़, रांची, हजारीबाग, गुवाहाटी, जम्मू, इलाहाबाद, पटना, रोहतक, धनबाद, इंदौर, मंगलुरु, भुवनेश्वर, फरीदाबाद, कोच्चि और श्रीनगर में 1-1 केंद्र हैं। एकेडमी में अनुभवी शिक्षक हैं जो छात्रों को सिविल सेवा परीक्षा में सफलता के लिए प्रशिक्षित करते हैं। चाणक्य आईएएस अकादमी का उद्देश्य अपने छात्रों के बीच गुणवत्तापूर्ण शिक्षण के साथ एक प्रतिस्पर्धी दृष्टिकोण विकसित करना है। एकेडमी उम्मीदवारों को प्रशिक्षित करने के लिए सिविल सेवकों और सॉफ्ट कौशल में विशेषज्ञों की मदद से संगोष्ठियों और कार्यशालाओं का आयोजन करती है।

About RITESH KUMAR

Check Also

आदिवासियों की समस्या को उजागर करती टी-सीरीज की शार्ट फिल्म ” जीना मुश्किल है यार” विश्व फ़िल्मफेस्टिवल में  

   आदिवासियों की समस्या को उजागर करती शार्ट फिल्म ‘ जीना मुश्किल है यार’ का …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *