Thursday , March 21 2019
Home / देश / फर्जी खबरों का पता लगाने में चुनाव आयोग की मदद करेंगे फेसबुक, ट्विटर

फर्जी खबरों का पता लगाने में चुनाव आयोग की मदद करेंगे फेसबुक, ट्विटर

 

नई दिल्ली: मुख्य निर्वाचन आयुक्त ओ पी रावत ने कहा कि सोशल मीडिया कंपनियों ट्विटर और फेसबुक ने चुनाव आयोग को आश्वासन दिया है कि प्रचार के दौरान चुनावों की शुचिता को प्रभावित करने वाली किसी भी चीज के लिए वे अपने प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल नहीं होने देंगे। रावत ने कहा कि कर्नाटक चुनाव के दौरान इसका परीक्षण किया गया था।

उन्होंने पीटीआई से कहा, ‘‘तब छोटी पायलट परियोजना के तौर पर इसे लागू किया गया। वह शुरूआत थी। अब लोकसभा चुनावों से पहले मध्य प्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़ और मिजोरम में बड़े स्तर पर इसे लागू किया जाएगा। इन चारों राज्यों में साल के अंत में विधानसभा चुनाव होने हैं।

रावत ने कहा कि वरिष्ठ उप निर्वाचन आयुक्त उमेश सिन्हा के नेतृत्व में एक समिति ने गूगल, फेसबुक और ट्विटर के क्षेत्रीय और स्थानीय प्रमुखों को बुलाया था और उनसे पूछा था कि फर्जी खबरों के प्रतिकूल प्रभावों को रोकने और मतदाताओं को लक्षित कर डाले गये संदेशों से बचने के साथ भारतीय चुनावों की शुचिता के लिए वे क्या कर सकते हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘उन सभी ने प्रतिबद्धता जताई है कि प्रचार अवधि के दौरान और मतदान समाप्त होने से पहले के 48 घंटे के दौरान वे ऐसी कोई चीज नहीं होने देंगे जो इन प्लेटफॉर्मों पर समान अवसर दिये जाने की प्रक्रिया पर विपरीत असर डालती हो। उन्होंने वादा किया है कि चुनावों से जुड़ा कुछ भी उनके प्लेटफॉर्मों पर डालने की इजाजत नहीं दी जाएगी।

मुख्य निर्वाचन आयुक्त ने कहा कि उक्त कंपनियों ने आयोग को यह भरोसा भी दिलाया है कि राजनीतिक विज्ञापनों के साथ उन पर खर्च राशि का ब्योरा भी होगा ताकि प्रचार अवधि के दौरान के व्यय का हिसाब लगाया जा सके।

गूगल एक ऐसी प्रणाली तैयार करेगी जिससे यह अपने प्लेटफॉर्मों पर खर्च के बारे में डाली गयी जानकारी चुनाव आयोग के साथ साझा कर सके।

मीडिया प्लेटफॉर्मों के विस्तार और विविधता को देखते हुए जन प्रतिनिधित्व कानून, 1951 की धारा 126 में संभावित बदलावों पर विचार करने के लिए सिन्हा के नेतृत्व में समिति का गठन किया गया था।

About MD MUZAMMIL

Check Also

Samjhauta Blast Case

Swami Aseemanand Acquitted Samjhauta Blast Case: समझौता एक्सप्रेस ब्लास्ट मामले में स्वामी असीमानंद समेत चार आरोपी बरी

हरियाणा के पंचकुला में एनआईए के स्पेशल कोर्ट ने समझौता ब्लास्ट के आरोपी स्वामी असीमानंद, …