Sunday , February 24 2019
Home / मनोरंजन / फ़िल्म सोनचिड़िया की शूटिंग के दौरान कास्ट और क्रू से बड़ा था बॉडीगार्ड्स का दल

फ़िल्म सोनचिड़िया की शूटिंग के दौरान कास्ट और क्रू से बड़ा था बॉडीगार्ड्स का दल

फ़िल्म “सोनचिड़िया” अपनी घोषणा के बाद से ही सुर्खियों में बनी हुई है। चंबल की कहानी को बड़े पर्दे पर देखने के लिए दर्शक काफ़ी उत्सुक है। जब से फ़िल्म का ट्रेलर आया है तब से फिल्म के प्रति प्रेक्षकों की जिज्ञासा ओर बढ़ गयी है।
जैसे की फिल्म की कहानी भारत की आजादी के बाद की है जब डकैतों ने भारत कई हिस्सों और बीहड़ो में अपनी धाक जमाई हुई थी, उस समय बीहड़ बहुत खरनाक हुआ करते थे वह आज भी उतने ही खतरनाक है ,की कब कहाँ से डकैत सामने आजाये। डकैतों की यह दहशत आज भी लोगो के जहन में है और आज भी कई जगह डकैतों का खतरा बना रहता है, इसी के चलते जब फिल्म की शूटिंग दूरदराज खतरनाक बीहड़ में की जा रही थी तब फिल्म के कास्ट और क्रू की  सुरक्षा अहम् थी। फिल्म के निर्देशक और निर्माताओं ने इसकी पूरी खबर दारी लेते हुए ऑन लोकेशन पर  बॉडीगार्ड्स की जैसी पूरी फ़ौज ही तैनात कर दी थी। फिल्म में जितनी कास्ट है और कास्ट के साथ जो क्रू है उनसे दोगुनी संख्या सुरक्षा में लगे बॉडीगार्ड्स की थी , जिसके चलते फिल्म की शूटिंग कड़ी सुरक्षा के साथ हुई। 
 
सोनचिड़िया में 1970 के दशक में स्थापित कहानी देखने मिलेगी जिसमें एक छोटा शहर डकैतों द्वारा शासित और प्रभुत्व नज़र आएगा। इतना ही नहीं, यहाँ सत्ता हासिल करने के लिए कई गिरोह संघर्ष की लड़ाई लड़ते हुए नज़र आएंगे। वही, फ़िल्म की थीम को मद्देनजर रखते हुए स्टारकास्ट इंटेंस अवतार में दिखाई देगी जिसकी झलक हाल ही में रिलीज हुई ट्रेलर में भी देखने मिली।
मुख्य भूमिका में सुशांत सिंह राजपूत, भूमि पेडनेकर, मनोज वाजपेयी, रणवीर शोरे और आशुतोष राणा अभिनीत, सोनचिड़िया में डाकू के युग पर आधारित में एक देहाती और कट्टर कहानी प्रस्तुत की जाएगीअभिषेक चौबे द्वारा निर्देशित सोनचिड़िया में धमाकेदार एक्शन की भरमार होगी ।
निर्माता रोनी स्क्रूवाला जिन्होंने न केवल ब्लॉकबस्टर हिट दी हैं बल्कि पुरस्कार विजेता फिल्मों के सरताज अब ‘सोनचिड़िया’ पेश करने के लिए तैयार हैं, यह फिल्म  आगमी १ मार्च २०१९ को  सभी सिनेमा घरों प्रदर्शित होगी 

About MD MUZAMMIL

Check Also

आदिवासियों की समस्या को उजागर करती टी-सीरीज की शार्ट फिल्म ” जीना मुश्किल है यार” विश्व फ़िल्मफेस्टिवल में  

   आदिवासियों की समस्या को उजागर करती शार्ट फिल्म ‘ जीना मुश्किल है यार’ का …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *