Saturday , November 18 2017
Home / देश / भारतीय सेना को मिली खुली छूट अब बुरा हाल होगा पाकिस्तानियों का !

भारतीय सेना को मिली खुली छूट अब बुरा हाल होगा पाकिस्तानियों का !

नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर के पुंछ में सोमवार को पाकिस्तान ने एक बार फिर संघर्षविराम का उल्लंघन किया और फायरिंग की आड़ में भारतीय जवानों की पेट्रोलिंग टीम के दो जवानों की हत्या कर उनके शवों के साथ बर्बरता की जिसके बाद पूरे देश का गुस्सा फूट पड़ा है। पाकिस्तान के इस कायराना हरकत का जवाब देने के लिये बड़ी जवाबी कार्रवाई की तैयारी है। सूत्रों के मुताबिक, सरकार ने सेना को इस वहशियाना हरकत का बदला लेने के लिए खुली छूट दे दिया है। वहीं, शहीद हेमराज की मां ने कहा है कि पाकिस्तान के साथ निर्णायक जंग का वक्त आ गया है। लांसनायक हेमराज भी पाकिस्तानी सेना की बर्बरता का शिकार हो गए थे।

सरकारी सूत्रों ने सोमवार को बताया कि इस वारदात का बदला लेने के लिए सेना को अपने विकल्पों का इस्तेमाल करने की छूट दी गई है। रक्षा मंत्री अरुण जेटली भी कह चुके हैं कि जवानों की शहादत बेकार नहीं जाएगी। इससे पहले, सेना ने भी अपने बयान में कहा था कि पाक की इस हरकत का उचित जवाब दिया जाएगा। संयोग की बात है कि आर्मी चीफ बिपिन रावत भी सोमवार को घाटी में थे। वे यहां सेना की ऑपरेशनल तैयारियां का जायजा लेने के लिए आए थे।

वहीं पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने भी इस बर्बर हमले की कड़ी निंदा की और कर्तव्य निर्वहन के दौरान खतरनाक स्थितियों से निपटने के लिए सेना को खुली छूट दिये जाने की मांग की। पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह की ओर से यह तीखी प्रतिक्रिया पाकिस्तान के विशेष बल टीम द्वारा भारी मोर्टार गोलाबारी की आड़ में नियंत्रण रेखा के पार पुंछ सेक्टर में 250 मीटर भारतीय क्षेत्र में प्रवेश करके दो भारतीय जवानों के सिर काटे जाने की घटना के बाद आयी है।

सीमा पर सैनिकों पर बढ़ते खतरे पर चिंता व्यक्त करते हुए अमरिंदर सिंह ने भारतीय सैनिकों के साथ एकजुटता प्रदर्शित की। सिंह स्वयं एक भूतपूर्व सैनिक हैं। उन्होंने कहा कि हमारे सैनिकों को सभी तरह के खतरों और अत्याचार का सामना करना पड़ रहा है, न केवल सीमापार दुश्मन देश की सेना की ओर से बल्कि कभी कभी नागरिकों की ओर से भी खतरे का सामना करना पड़ रहा है जैसा कि हाल में कश्मीर में हुआ।

उन्होंने आज की घटना पर कड़ी प्रतिक्रिया जतायी जिसमें दो भारतीय सैनिकों के सिर काट दिये गए। उन्होंने केंद्र सरकार से आग्रह किया कि ऐसे अत्याचार एवं बर्बर कृत्यों में लिप्त होने वाले दुश्मन ताकतों को कड़ा संदेश दे।

भारत के प्रति पाकिस्तान के नापाक इरादों से पुरी दुनिया वाकिफ है। आए दिन पाकिस्तान द्वारा बॉर्डर पर सीज़ फायर का उल्लंघन इस बात का प्रमाण है कि वह भारत से शान्ति नहीं चाहता और अब जम्मू-कश्मीर के पुंछ में सोमवार को पाकिस्तान ने एक बार फिर संघर्षविराम का उल्लंघन और फायरिंग की आड़ में भारतीय जवानों की पेट्रोलिंग टीम के दो जवानों की हत्या कर उनके शवों के साथ बर्बरता किया। इस मामले पर पूर्व रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने कहा कि पाकिस्तान खुद को भले ही कैसा भी दिखाए, लेकिन उसे समझना चाहिए कि यदि भारत ने जवाबी कार्रवाई शुरू की तो उसके पास मुकाबला करने की ताकत नहीं है। वहीं रक्षा मंत्री अरुण जेटली भी कह चुके हैं कि जवानों की शहादत बेकार नहीं जाएगी।

पाकिस्तान भारत में आतंकवाद को भी बढ़ावा देता रहा है। इन सभी कारणों से दोनों देशों के बीच तनाव बना रहता जिसकी वजह से युद्ध का खतरा हमेशा मंडराता रहता है। अभी तक भारत और पाकिस्तान के बीच 4 युद्ध हो चुके है और चारों युद्धों में भारत विजयी रहा है।

About khabar On Demand Team

Check Also

‘मुज़फ्फरनगर-दी बर्निंग लव’ की टीम फ़िल्म के प्रोमोशन के लिए दिल्ली आई