Saturday , December 16 2017
Home / देश / ईमानदार हूं क्यों दूं इस्तीफा: तेजस्वी

ईमानदार हूं क्यों दूं इस्तीफा: तेजस्वी

पटना।  भ्रष्टाचार के मुद्दे पर जदयू के दबाव के जवाब में भावुकता भरी सफाई पेश करते हुए लालू प्रसाद के छोटे पुत्र और उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने कहा है कि मैं ईमानदार हूं, तो इस्तीफा क्यों दूं? मूंछ नहीं आई थी, उस समय के आरोप लगाकर लोग मुझे घेरना चाहते हैं। यह भाजपा की साजिश है। मंत्री बनने के बाद मैंने कोई गलत काम नहीं किया। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की तरह भ्रष्टाचार को लेकर मैं भी ‘जीरो टॉलरेंस’ की नीति पर चलता हूं। निष्ठा और समर्पण के साथ काम करता हूं। कैबिनेट की मीटिंग के बाद तेजस्वी ने कहा कि मैं जनता की कृपा पर डिप्टी सीएम बना हूं। अपना पक्ष वही रखूंगा। महागठबंधन अटूट है। तमाम आरोप भाजपा की साजिश हैं। उन्होंने कहा कि हमारे ऊपर तब के आरोप मढ़े जा रहे हैं, जब मैं क्फ्- क्ब् साल का था। क्ब् साल का बच्चा कैसे यह सब कर सकता है? तेजस्वी ने कहा कि तब मेरे पास न पावर था, न पद। तेजस्वी ने महागठबंधन में मतभेद का ठिकरा मीडिया पर फोड़ा और कहा कि भाजपा समर्थित पत्रकारों को हमारी एकता बर्दाश्त नहीं हो रही है।

जदयू ने एक दिन पहले तेजस्वी से भ्रष्टाचार के आरोपों पर जनता के सामने तथ्यों के साथ सफाई की मांग की थी। इसके लिए चार दिनों की मोहलत भी दी है। आज दूसरे ही दिन तेजस्वी जदयू पर तो कुछ भी बोलने से बचे, लेकिन केंद्र सरकार एवं भाजपा पर खूब गरजे- बरसे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं अमित शाह का नाम लेकर केंद्र पर गंभीर आरोप लगाए। कहा- भाजपा लालू परिवार एवं बिहार को बदनाम करने की साजिश रच रही है। तेजस्वी ने कहा कि हम पिछड़े परिवार से हैं। इसलिए सजा दी जा रही है। गरीबों, किसानों एवं प्रधानमंत्री के वादों के बारे में बात करना हमें महंगा पड़ रहा है। पहले भाजपा वाले लालू जी से डरते थे, अब ख्8 साल के इस नौजवान की छवि से भयभीत हैं। उन्होंने दावा किया कि प्रदेश के नौजवान उनके साथ हैं। विधानसभा चुनाव की याद दिलाते हुए उन्होंने कहा कि अमित शाह और नरेंद्र मोदी को जवाब जरूर मिलेगा। बिहार से ही नहीं, पूरे देश से भाजपा का सफाया होगा।

About Md. Muzammil

Check Also

Padmawati, Deepika Padukone, Sanjay Lila Bhansali, Ranveer Singh, Alauddin Khilaji, Rajput, Mewad, Karni Sena

फेसबुक पोस्ट से गिरफ्तारी, भंसाली-दीपिका को खुलेआम मारने की धमकी देने वाले बाहर कैसे?