Thursday , June 21 2018
Home / टेक्नोलॉजी / IIT कानपुर का पूर्व छात्र बना बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट का सलाहकार
PC: Kodmedia

IIT कानपुर का पूर्व छात्र बना बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट का सलाहकार

नई दिल्ली: पिछले कई दिनों से जापान के साथ बुलेट ट्रेन की लेकर सबसे ज्यादा ख़बरे आई पर आज हम आपकों बता रहें हैं की इस प्रोजेक्ट को तैयार करने की जिम्मेदारी किसे दी गई हैं।

IIT के पूर्व छात्र हैं इस परियोजना के सलाहकार

भारत में बुलेट ट्रेन चले पर इसकी क्या रुपरेखा और क्या प्लानिंग हो इसकी जिम्मेदारी दी गई है कानपुर आईआईटी के पूर्व छात्र संजीव सिन्हा को। जापान सरकार ने उन्हें इस परियोजना का सलाहकार बनाया है। IIT से डिग्री लेने के बाद संजीव सिन्हा जापान चले गए और पिछले 21 वर्षो से वहीं काम कर रहे हैं। उन्होंने IIT कानपुर से भौतिक विज्ञान में पांच वर्ष का इंटीग्रेटेड एमएससी की पढाई की थी।

राजस्थान में हुआ है जन्म

इनका जन्म 21 जनवरी 1973 को राजस्थान में हुआ था। संजीव ने 12वीं तक की पढ़ाई वहीं से की है। इन्होंने अपने पहले ही प्रयास में IIT जैसी मुश्किल परीक्षा की पास कर लिया और उनका चयन आईआईटी कानपुर में हो गया।

उज्ज्वल भविष्य के लिए चले गए जापान

कानपुर से एमएससी की डिग्री लेने के पश्चात् ये जापान चले गए। वहां पर कई कम्पनियों में लंबे वक्त तक काम किया। शादी करने के पश्चात् विदेश में ही बस गए।

वर्ष 2023 तक पूरा करने का है टारगेट

भारत के जिस महत्वाकांक्षी बुलेट ट्रेन के परियोजना का संजीव सिन्हा को सलाहकार बनाया गया है, उसे वर्ष 2023 तक पूरा करने का टारगेट रखा गया है।

इतनी लम्बी है अहमदाबाद से मुम्बई की दुरी

अहमदाबाद से मुम्बई के बीच तक़रीबन 508 किलोमीटर की दूरी के बीच ये ट्रेन दौड़ेगी। जिसे पूरा करने में सिर्फ दो घंटे का वक़्त लगेगा, जबकि अभी ये दुरी को पूरा करने में तक़रीबन सात से आठ घंटे लग जाते हैं।

इतने करोड़ का है प्रोजेक्ट

भारत के बुलेट ट्रेन का पूरा प्रोजेक्ट तक़रीबन एक लाख करोड़ का है और यह जापान की तकनीक पर ही चलेगी।

बुलेट ट्रेन से पहले भी इस प्रोजेक्ट को संजीव ने किया था तैयार

बुलेट ट्रेन से पहले संजीव ने ही काशी को क्योटो बनाने के लिए भी प्रोजेक्ट तैयार किया था। पीएम नरेंद्र मोदी जब जापान गए थे तो संजीव सिन्हा ने उन्हें यह प्रोजेक्ट दिखाया था। इसी के आधार पर IIT बीएचयू व IIT कानपुर ने इस दिशा में अपने आगे कदम बढ़ाए थे।

About Team Web

Check Also

गोंडा: 15 किलो गांजा के साथ तस्कर चढ़ा पुलिस के हत्थे, एक फरार होने में रहा कामयाब

 गोंडा (अरूण त्रिपाठी): जनपद कीकोतवाली देहात पुलिस को एक बड़ी सफलता हाथ लगी है। पुलिस …