Monday , October 23 2017
Home / खेल / भारत के सबसे सफल कामयाब कप्तान ने छोड़ी वनडे और टी20 कप्तानी

भारत के सबसे सफल कामयाब कप्तान ने छोड़ी वनडे और टी20 कप्तानी

मुंबई. भारतीय क्रिकेट के इतिहास में सफलतम कप्तानों में शुमार और मौजूदा सीमित ओवरों की टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने बुधवार को कप्तानी से इस्तीफा दे दिया है.

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने बुधवार को एक बयान जारी कर इसकी घोषणा की.
धोनी के बाद टेस्ट टीम के कप्तान विराट कोहली को एकदिवसीय और टी-20 की कमान मिलना लगभग तय है.

धोनी की कप्तानी में भारत ने 2007 में टी-20 विश्व कप और 2011 में 50 ओवरों के विश्व कप में जीत हासिल कर इतिहास रचा था. वहीं टेस्ट में भी धोनी ने टीम को पहली बार नंबर-1 की कुर्सी पर बैठाया.

एकदिवसीय में धोनी ने कुल 199 मैचों में टीम का नेतृत्व किया. दुनिया के सर्वश्रेष्ठ फिनिशर माने जाने वाले धोनी ने टीम को कप्तान रहते कुल 110 मैचों में जीत दिलाई जबकि 74 मुकाबलों में उन्हें हार मिली. चार मुकाबले टाई और 11 मैचों का कोई परिणाम नहीं निकला.

वह विश्व क्रिकेट में सबसे ज्यादा एकदिवसीय मैचों में कप्तानी करने में तीसरे नंबर पर आते हैं. उनसे ज्यादा आस्ट्रेलिया के रिकी पोंटिंग और न्यूजीलैंड के स्टीफन फ्लेमिंग ने एकदिवसीय मैचों में कप्तानी की है.

धोनी को क्रिकेट इतिहास में करिश्माई कप्तान भी कहा जाता है. क्रिकेट के मैदान पर उन्होंने कई बार ऐसे जोखिम उठाए जिसकी किसी ने कल्पना भी नहीं की थी. धोनी को पहली बार कप्तान की जिम्मेदारी 2007 में दी गई थी. उनकी पहली परीक्षा ही काफी मुश्किल थी.

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने पहली बार टी-20 विश्व कप कराने का फैसला किया. धोनी ने इस विश्व कप से अपनी कप्तानी की शुरुआत की और भारत को विजेता बनाकर स्वदेश लौटे.

टी-20 विश्व कप के बाद ही उन्हें एकदिवसीय टीम की कमान भी सौंपी गई. उन्होंने 72 टी-20 मैचों में टीम की कमान संभाली और 41 जीत टीम को दिलाई और 28 हारों का सामना किया. एक मैच टाई और दो मैचों का परिणाम नहीं निकला. वह टी-20 में सबसे ज्यादा मैचों में कप्तानी करने वाले खिलाड़ी हैं।

पांच साल बाद उन्होंने भारत को एक बार फिर विश्व विजेता बनाया. भारत, श्रीलंका और बांग्लादेश की संयुक्त मेजबानी में खेले गए 50 ओवरों के विश्व कप में भारत ने धोनी के कप्तान रहते ही जीत हासिल की. भारत ने 28 साल बाद इस विश्व कप पर कब्जा जमाया था. 2015 में हुए विश्व कप में धोनी भारत को सेमीफाइनल तक ले गए.

धोनी की कप्तानी में ही भारत ने अब तक खेले गए छह टी-20 विश्व कप में हिस्सा लिया. धोनी की कप्तानी में भारत दो बार विश्व कप के फाइनल तक पहुंचा. एक बार टीम विजेता बनी तो 2014 में उपविजेता.

2014 के फाइनल में उसे श्रीलंका ने मात दी. पिछले साल भारत की मेजबानी में हुए टी-20 विश्व कप में भी भारत ने सेमीफाइनल में जगह बनाई, जहां उसे वेस्टइंडीज के हाथों हार का सामना करना पड़ा

About विभव शुक्ला

Young Journalist from Delhi. Core team membar of Khabar On Demand

Check Also

बर्थडे स्पेशल: आज है मुल्तान के सुल्तान का बर्थडे

नई दिल्ली: टीम इंडिया के विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग आज अपना बर्थडे मना रहे है. …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *