Sunday , April 22 2018
Home / देश / कार्तिक पूर्णिमा आज, जाने आखिर क्यों खास है ये दिन
PC: Kodmedia

कार्तिक पूर्णिमा आज, जाने आखिर क्यों खास है ये दिन

हिंदू धर्म में पूर्णिमा का व्रत सबसे अधिक महत्वपूर्ण स्थान रखता है। प्रत्येक वर्ष 12 पूर्णिमाएं होती हैं। पर जब अधिकमास या मलमास आता है तब इनकी संख्या बढ़कर 13  हो जाती है। कार्तिक पूर्णिमा को गंगा स्नान या त्रिपुरी पूर्णिमा के नाम से भी जाना जाता है।

इस पुर्णिमा को त्रिपुरी पूर्णिमा की संज्ञा इसलिए दी गई है क्योंकि आज के दिन ही भगवान भोलेनाथ ने त्रिपुरासुर नामक महाभयानक असुर का अंत किया था और वे त्रिपुरारी के रूप में पूजित हुए थे।

ऐसी मान्यता है कि इस दिन कृतिका में शिव शंकर के दर्शन करने से सात जन्म तक व्यक्ति ज्ञानी और धनवान होता है। इस दिन चन्द्र जब आकाश में उदित हो रहा हो उस समय शिवा, संभूति, संतति, प्रीति, अनुसूया और क्षमा इन छ: कृतिकाओं का पूजन करने से शिव जी की प्रसन्नता प्राप्त होती है। इस दिन गंगा नदी में स्नान करने से भी पूरे वर्ष स्नान करने का फाल मिलता है।

पूर्णिमा तिथि 3 नवंबर के दिन 12 बजकर 58 मिनट से शुरू होकर 4 नवंबर के सुबह 11 बज कर 25 मिनट तक है। उदया तिथि के कारण शनिवार को ही पूर्णिमा मनायी जा रही है। इस कारण आप भी 11 बज कर 25 मिनट के पहले स्नान दान और पूजन कर लें। इस दिन अपने घरों में तुलसी के आगे और घर के दरवाजों पर घी के दीपक जलाना शुभ माना जाता है।

About Team Web

Check Also

आज पटना में है तेजप्रताप की सगाई!

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद और पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के बड़े पुत्र तेजप्रताप यादव की …