Thursday , January 24 2019
Home / मनोरंजन / महाराष्ट्र के तुम्बाड में छिपा है असली खजाना

महाराष्ट्र के तुम्बाड में छिपा है असली खजाना

सोहम शाह अभिनीत “तुम्बाड” एक रहस्यमय खजाने की कहानी है जो महाराष्ट्र के छोटे कस्बे तुम्बाड पर आधारित है।फ़िल्म बनाने की प्रक्रिया के दौरान लेखक ने फ़िल्म की स्क्रिप्ट में एक रहस्यमय खजाने का जिक्र किया गया था और इसिलए फ़िल्म की टीम एक ऐसे शहर की तलाश में थी जहाँ वाकई में में ऐसी घटना घटी हो और इस तलाश में उन्हें महाराष्ट्र के तुम्बाड शहर के बारे में पता लगा।
जब फ़िल्म के निर्माता शूटिंग के लिए तुम्बाड पहुँचे तो उन्हें वहाँ के स्थानीय लोगों से पता लगा कि यह जगह वाकई में  एक रहस्यमय खजाना छिपा हुआ है। यह बात सुन कर फ़िल्म की सम्पूर्ण टीम आश्चर्यचकित हो गयी थी और इसिलए फ़िल्म का नाम भी “तुम्बाड” रखने का निर्णय लिया गया।फ़िल्म में महाराष्ट्र के स्थानीय छोटे कस्बों की झलक के साथ दर्शकों के जहन में पूर्व स्वतंत्रता युग की यादें ताज़ा करने की कोशिश की जाएगी।
“तुम्बाड” में  अनुभवी अभिनेता सोहम शाह अनदेखे अवतार में नज़र आएंगे जहाँ वह महाराष्ट्र के पूर्व स्वतंत्रता युग से 30 और 40 दशक के विंटेज लुक में दिखाई देंगे।अभिनेता अपने किरदार का सार पकड़ते हुए, फ़िल्म में महाराष्ट्र के कोंकनास्थ ब्रह्मन्स द्वारा पहने गए ठेठ पोशाक में दिखाई देंगे।
सर्वोत्कृष्ट इयरपीस और मूंछों के साथ सोहम शाह ने अपने किरदार की हर बारीकी पर ध्यान दिया है जिसने फ़िल्म के प्रति जिज्ञासा बढ़ा दी है।पूर्व स्वतंत्रता युग में इस्तेमाल होने वाले उपकरण और वाहन के प्रदर्शन के साथ, टीज़र और ट्रेलर ने पौराणिक कथाओं और हॉरर के दिलचस्प मिश्रण के साथ दर्शकों के रोंगटे खड़े कर दिए थे।
कल्पना, एक्शन, भय और डर की झलक के साथ आनंद एल राय की तुम्बाड एक रोमांचकारी रोलर कॉस्टर सवारी की तरह होगी जो दर्शकों का मनोरंजन करते हुए मनुष्य के लालची व्यक्तित्व पर सवाल उठाते हुए  नज़र आएगी।विसुअली आश्चर्यजनक फ़िल्म होने के कारण, “तुम्बाड” अपनी रिलीज से पहले ही प्रशंसा का पात्र बनी हुई है।सोहम शाह की यह बहू महत्वाकांक्षी परियोजना छह साल की रोलर कोस्टर सवारी की तरह रही है, जबकि आयनंद एल राय ने फिल्म को शैली-परिभाषित फिल्म के रूप में परिभाषित किया है।

About MD MUZAMMIL

Check Also

पावन श्रीराम कथा, जन्माष्ट्मी पार्क, पंजाबी बाग में हुआ भव्य समापन हुआ

  श्री महालक्ष्मी चैरिटेबल ट्रस्ट, पंजाबी बाग नें दिल्ली में पहली बार श्रदेय आचार्य श्री …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *