Tuesday , June 19 2018
Home / राज्य / पिछले 14 वर्षो से ये इंसान बिना किडनी के जिन्दा हैं!

पिछले 14 वर्षो से ये इंसान बिना किडनी के जिन्दा हैं!

नई दिल्ली। किडनी शरीर का एक ऐसा अंग होता है जो शरीर से विषाक्त पदार्थों को छानकर मूत्र के रूप में निकालने में मदद करता है। लेकिन खराब जीवनशैली और कभी-कभी दवाईयों के कारण किडनी के ऊपर बुरा प्रभाव पड़ता है।

इसके ख़राब होने से हमारे शरीर के अन्य अंग भी प्रभावित हो जाते हैं। यह बात हम आम तौर पर सुनते आए हैं कि अगर किडनी खराब हो जाए तो इंसान का जीवित रहना बेहद ही मुश्किल हो जाता है।

लेकिन आज हम आपको एक ऐसे व्यक्ति के बारे में बताने जा रहे हैं जिनकी दोनों किडनी खराब हो चुकी है फिर भी वह 14 साल से जीवित है। अब आपके मन में कई प्रकार के प्रश्न चल रहे होंगे कि ऐसा कैसे हो सकता है तो चलिए आज हम आपको इस बारे में विस्तारपूर्वक बताते हैं।

59 वर्षीय प्रकाश मोरे की दोनों किडनियां पिछले 20 सालों से खराब हो चुकी है लेकिन 14 वर्षों से इनकी दोनों किडनियां पूर्ण रूप से निष्क्रिय हो गई। लेकिन प्रकाश ने हार नहीं मानी महंगे-महंगे डायलेसिस के स्थान पर उन्होंने कॉन्टीनिवस एंबुलेटरी पेरिटोनियल डायलिसिस (CAPD) का विकल्प चुना जिसकी वजह से उनके जीने की उम्मीद बंधी।

वह बताते हैं कि जब उन्हें पता चला कि उनकी किडनी खराब हो चुकी है तो उन्होंने यूरोलॉजी के हेड डॉक्टर से यह पूछा कि पैसों के अभाव में क्या कोई व्यक्ति खुद अपना डायलेसिस कर सकता है?

जिसके बाद डॉक्टर ने उन्हें यह बताया कि एक तकनीक के द्वारा खुद का डायलेसिस किया जाता है। इस तकनीक में ट्यूब कै के जरिए आपके एब्डोमिनल कैविटी में इंसर्शन किया जाता है और इस प्रक्रिया में बहुत सावधानी रखी जाती है क्योंकि इसमें संक्रमण का खतरा बहुत अधिक होता है।

यह प्रक्रिया 24 घंटे में 3 बार की जाती है जिसमें 15 से 20 मिनट का समय लगता है इसी वजह से प्रकाश ने अपने घर में ही एक ऑपरेशन थिएटर बना लिया है और वह खुद ही अपना डायलेसिस कर लेते हैं। इस प्रक्रिया को अपनाकर प्रकाश नाही सिर्फ अपना इलाज कर रहे हैं बल्कि दूसरे मरीजों के लिए भी एक मिसाल कायम कर रहे हैं जो पैसों के अभाव में महंगा इलाज नहीं करा पाते।

हम उम्मीद करते हैं यह जानकारी आपके लिए ज्ञानवर्धक सिद्ध हुई होगी और आप इसे अपने मित्रों के साथ अवश्य शेयर करेंगे।

 

About Team Web

Check Also

सुल्तानपुर: अवैध खनन का मामला उठाने पर पत्रकार को मिल रही जान से मारने की धमकी

सुलतानपुर (ए के शुक्ल): ऐसा प्रतीत हो रहा है कि सुल्तानपुर जनपद के मोतिगरपुर थाने …