Sunday , February 24 2019
Home / देश / पीएम नरेंद्र मोदी महान देशभक्त, सिर्फ भारत की सोचते हैं: इजरायली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू
INDIA NEWS,CURRENT NEWS IN HINDI,LATEST NEWS INDIA,HINDI SAMACHAR,ISLAIEL,BENJAMIN NETANYAHU,PRIME MINISTER NARENDRA MODI,MUMBAI,BOLLYWOOD,INDIA

पीएम नरेंद्र मोदी महान देशभक्त, सिर्फ भारत की सोचते हैं: इजरायली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू

मुंबई: इजरायली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने LoC पर संयुक्त राष्ट्र द्वारा घोषित आतंकियों के खिलाफ भारत के ऐक्शन में साथ देने पर सहमति जताई है। एक इंग्लिश चैनल को दिए एक्सक्लूसिव इंटरव्यू में नेतन्याहू ने पीएम मोदी को महान देशभक्त बताया और साथ ही कहा कि पीएम मोदी वही करते हैं जो भारत के लिए अच्छा है।

इंटरव्यू में जब नेतन्याहू से पूछा गया कि क्या सीमा पर मौजूद आतंकियों के खिलाफ भारत की कार्रवाई का इजरायल समर्थन करेगा तो उन्होंने कहा, ‘हमारे बीच कुछ सांमजस्य है, इसके अलावा मुझे नहीं लगता कि आगे कुछ कहने की जरूरत है।’ हालांकि, उन्होंने यह भी कहा कि भारत-इजरायल की भागीदारी किसी खास देश के खिलाफ नहीं है।

नेतन्याहू ने आगे कहा, ‘इजरायल पाकिस्तान का दुश्मन नहीं है और न ही पाकिस्तान को हमारा दुश्मन होना चाहिए।’ नेतन्याहू से पूछा गया कि भारत में कई लोग इजरायल से रिश्तों के खलाफ हैं या उन्हें इस रिश्ते से दिक्कत है। रणनीतिक और सामरिक पहलू को लेकर वह ऐसे लोगों को कैसे भरोसे में लेंगे, तो उन्होंने कहा, ‘सबसे पहले मैं यह कहना चाहूंगा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बहुत बड़े देशभक्त हैं और जो देश के हित में होता है, वह वही करते हैं। जब वह आतंकवाद के खिलाफ भारतीय सुरक्षा, दुग्ध उत्पादन में वृद्धि और सब्जी उत्पादन में इजाफे के बारे में सोचते हैं तब वह केवल यह नहीं सोच रहे होते हैं कि इसमें इजरायल के लिए क्या अच्छा है, बल्कि वह सोचते हैं कि देश के लिए क्या अच्छा है और मुझे लगता है कि वह सही हैं।

जब नेतन्याहू से फिलिस्तीन मुद्दे पर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा, ‘इजरायल एक परफेक्ट देश होने का दावा नहीं करता है। मैं ऐसे किसी देश को नहीं जानता जहां दिक्कतें न हों। लेकिन हमने हमारे पड़ोसियों के सामने शांति का हाथ बढ़ाया है। यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि फिलिस्तीनी पक्ष पर, हमने पारस्परिक प्रतिक्रिया नहीं देखी है।’ नेतन्याहू ने यह भी कहा कि ज्यादातर अरब देश अब इजरायल को अपने दुश्मन के रूप में नहीं बल्कि कट्टरवाद के खिलाफ उनकी लड़ाई में एक अहम सहयोगी के तौर पर देखते हैं।

नेतन्याहू ने भारत और इजरायल के संबंधों को सभ्यताओं और लोकतंत्रों के बीच की भागीदारी बताया। नेतन्याहू बोले, ‘मैं गुजरात के एक एक्सलेंस सेंटर में था, जहां भारतीय किसानों को इजरायली खेती के तरीके बताए जा रहे हैं। 5 किसानों ने मुझे बताया कि सब्जियां उगाने से उनकी आय 4 से 5 गुना बढ़ने में मदद मिली है। मैंने कहा, यह अद्भुत है। अगर हम औरों को भी देखें, तो इसका मतलब हुआ हमने बड़ी संख्या में भारतीयों के जीवनस्तर को ऊपर उठाया है।’

About RITESH KUMAR

Check Also

आदिवासियों की समस्या को उजागर करती टी-सीरीज की शार्ट फिल्म ” जीना मुश्किल है यार” विश्व फ़िल्मफेस्टिवल में  

   आदिवासियों की समस्या को उजागर करती शार्ट फिल्म ‘ जीना मुश्किल है यार’ का …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *