Saturday , November 18 2017
Home / मनोरंजन / नवाजुद्दीन ने दिल्ली में किया ‘बाबुमोशाय बंदूकबाज’ का प्रमोशन

नवाजुद्दीन ने दिल्ली में किया ‘बाबुमोशाय बंदूकबाज’ का प्रमोशन

बॉलीवुड अभिनेता नवाजुद्दीन सिद्दीकी आजकल छाए हुए हैं। असीम प्रतिभाशाली एक्टर होने के कारण उनकी फिल्मों की प्रतीक्षा हर आयु वर्ग के दर्शकों को रहती है। 25 अगस्त को उनकी एक और अतिमहत्वाकांक्षी एवं बहुप्रतीक्षित एक्शन थ्रिलर फिल्म‘बाबूमोशाय बंदूकबाज’ रिलीज होने वाली है। इसी फिल्म के प्रमोशन के सिलसिले में नवाज पिछले दिनों अपने सहयोगी कलाकारों- बिदिता बेग, श्रद्धा दास, जतिन गोस्वामी एवं निर्माता अश्मित कुंदर के साथ दिल्ली में थे। होटल द रॉयल प्लाजा में आयोजित प्रेस सम्मेलन में मीडिया के साथ बातचीत में नवाज़ और फिल्म के अन्य कलाकारों ने अपने अनुभव और फिल्म की खासियत साझा की।

फिल्म के बारे में नवाज ने कहा, ‘फिल्म का किरदार विशेष और अनोखा है, वह सभी सामाजिक और नैतिक मूल्यों से बाहर है, वह एक अजीब हास्य का रूप धारण कर लेता है।’ नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने अपने किरदार के बारे में बताया, ‘टाइटल बंदूकबाज से ही पता चलता है कि बाबूमोशाय बंदूक के बिना नहीं चलता है। इसलिए इस फिल्म में कुछ अलग तरह के एक्शन हैं।’ नवाज ने बताया, ‘‘बाबूमोशाय बंदूकबाज’ में मैं एक कॉन्ट्रैक्ट किलर की भूमिका में नजर आऊंगा, जो रोमांस भी करता नजर आएगा। हमारा मानना है कि एक कॉन्ट्रैक्ट किलर भी रोमांस कर सकता है, क्योंकि रोमांस एक तरह से नहीं, बहुत तरीके से होता है। हर किसी के रोमांस का तरीका अलग होता है।

वैसे ही मेरा जो कैरेक्टर है, वह अपने हिसाब से रोमांस करता है।’सेंसर प्रमाणन के बारे में नवाज ने कहा कि यह फिल्म बनावटी नहीं, बल्कि वास्तविक है। पहले इसमें 48 कट लगाने की बात की जा रही थी, लेकिन ऊपरवाले की दया से सेंसर ने सिर्फ 4 से 5 कटौती की है। हालांकि, फ़िल्म अपने दृश्यों के अनुसार थोड़ा सा बोल्ड जरूर है, लेकिन इसके बावजूद 48 कट की कोई जरूरत नहीं थी। उन्होंने कहा कि हम सबके लिए यह फिल्म विशेष है। फिल्म की अधकांश शूटिंग पूर्वी उत्तर प्रदेश एवं लखनऊ के आसपास हुई है। मुझे यकीन है कि लोग इस फिल्म को पसंद करेंगे।’

कुशन नंदी द्वारा निर्देशित और किरण श्याम श्रॉफ-आश्मित कपूर द्वारा निर्मित ‘बाबूमोशाय बंदूकबाज’ बाबू (नवाजुद्दीन) के बारे में एक विचित्र कहानी है, जो एक कांट्रैक्ट किलर है और वेश्यावृत्ति में भी शामिल है, साथ ही वह एक लड़की (बिदिता बेग) के साथ प्यार में भी पड़ जाता है। फिल्म की कहानी नवाजुद्दीन और दूसरे कॉन्ट्रैक्ट किलर के साथ तय हुई एक शर्त के इर्द-गिर्द घूमती है। दोनों किलर्स को तीन लोगों को मारने का कॉन्ट्रैक्ट मिलता है। नवाजुद्दीन दूसरे कि‍लर को कहता है कि जिसने तीन में से दो लोगों को पहले मार दिया, उसे तीनों को मारने के पूरे पैसे मिलेंगे और जो हार गया, वह यह धंधा छोड़ देगा। कुल मिलाकर फिल्म की कहानी कांट्रैक्ट किलर के प्यार, उसके दोस्त, उसकी प्रतिद्वंद्विता और उनका बदला के इर्दगिर्द घूमती है। बाबू के प्यार में पड़ने से फिल्म में एक मोड़ आता है।

 

About khabar On Demand Team

Check Also

‘मुज़फ्फरनगर-दी बर्निंग लव’ की टीम फ़िल्म के प्रोमोशन के लिए दिल्ली आई