Sunday , February 24 2019
Home / मनोरंजन /  पूर्वांचल के रियल स्थानों पर फिल्माई गयी है पंकज त्रिपाठी की “मिर्ज़ापुर”

 पूर्वांचल के रियल स्थानों पर फिल्माई गयी है पंकज त्रिपाठी की “मिर्ज़ापुर”

अपनी पिछली वेब श्रृंखला “इनसाइड एज” की अपार सफलता के बाद, अमेज़ॅन प्राइम वीडियो अब अपनी अगली पेशकश “मिर्ज़ापुर” के साथ दर्शकों का मनोरंजन करने के लिए तैयार है।
 एक्सेल मीडिया एंड एंटरटेनमेंट अपनी आगामी श्रृंखला मिर्ज़ापुर के साथ दर्शकों के सामने रोमांचकारी और क्रूर कंटेंट पेश कर रहे है।
मिर्ज़ापुर न सिर्फ पूर्वांचल की असली कहानी से प्रेरित है बल्कि श्रृंखला की ९० प्रतिशत शूटिंग पूर्वांचल के रियल लोकेशन पर की गयी हैं।
श्रंखला के निर्देशक करण अनुष्मण ने मिर्ज़ापुर की शूटिंग के बारे में बात करते हुए कहा,”दर्शकों को मिर्ज़ापुर देखते वक़्त एक रियल मिर्ज़ापुर का अनुभव देने के लिए हमने मिर्ज़ापुर की ९० प्रतिशत शूटिंग पूर्वांचल के रियल लोकेशन पर की हैं। उम्मीद है की यह सीरीज देखते वक़्त दर्शकों को काफी मज़ा आएगा।
“मिर्ज़ापुर” दिल दहला देने वाले एक्शन के क्षणों से भरपूर यह एक कानूनहीन भूमि है जहां नियम कालीन भईया उर्फ पंकज त्रिपाठी के अलावा किसी अन्य के द्वारा नहीं रखे जाते हैं।
यह एक ऐसी दुनिया है जो नशीली दवाओं, बंदूकें और अयोग्यता से भरी हुई है, जहां जाति, शक्ति, अहंकार और तपस्या से छेड़छाड़ करते हैं और हिंसा ही जीवन का एकमात्र तरीका है।
मिर्ज़ापुर में पंकज त्रिपाठी, अली फजल, विक्रांत मैसी, दिव्येंदु शर्मा, कुलभूषण खरबंदा, श्वेता त्रिपाठी, श्रीया पिलगांवकर, रसिका दुगल, हर्षिता गौर और अमित सियाल जैसे दमदार कलाकारों की टोली नज़र आएगी।
पुनीत कृष्णा और करण अंशुमान द्वारा रचित,”मिर्ज़ापुर” गुरमीत सिंह द्वारा निर्देशित है और एक्सेल एंटरटेनमेंट के बैनर के तले बनी यह श्रृंखला रितेश सिधवानी और फरहान अख्तर द्वारा निर्मित है।

About MD MUZAMMIL

Check Also

आदिवासियों की समस्या को उजागर करती टी-सीरीज की शार्ट फिल्म ” जीना मुश्किल है यार” विश्व फ़िल्मफेस्टिवल में  

   आदिवासियों की समस्या को उजागर करती शार्ट फिल्म ‘ जीना मुश्किल है यार’ का …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *