Monday , December 11 2017
Home / लाइफस्टाइल / इश्क़ एक खुशनुमा एहसास!

इश्क़ एक खुशनुमा एहसास!

नई दिल्ली। हर किसी के जिंदगी में वो वक़्त आता हैं जब उसे कुछ ख़ास तरह का अहसास होता हैं। इसी अहसास को इश्क़ कहा गया हैं। जब हम सारी दुनिया से बेखबर बस अपने प्यार में खोए रहते हैं।

ये वो वक़्त हैं जब हम सब खुश होकर जीना सीखते हैं। जब हमें किसी से प्यार होने लगता है तो रिश्ते की शुरुआत में हम अक्सर सिर्फ सकारात्मक चीज़ें ही देखते हैं, और सातवे आसमान में महसूस करते हैं। ये एहसास इतना गहरा होता है की यदि हमें उस व्यक्ति से बदले में उतना ही प्यार न मिले तो काफी दुःख पहुँचता है।

पर समय के साथ-साथ प्यार की ‘शुरुआत’ वाला एहसास अब बदलने लगता है। अब ये एहसास पहले से गहरा, मजबूत, होने लगता है। अब आप उनसे प्यार करने लगे हैं।

निष्कर्ष ये है कि प्यार अलग अलग चरणो में विकसित होता है। पहले शारीरिक आकर्षण का दीवानापन, फिर स्वप्नलोक, फिर मजबूत लगाव और उसके बाद दौर आता है गहरे प्यार का जो अक्सर उम्र भर तक रहता है।

About Web Team

Check Also

अगर आप रोजाना करते हैं 2 घंटे तक ड्राइविंग, तो ये खबर आपके लिए!