Sunday , November 19 2017
Home / देश / महंगा हो जाएगा CREDIT CARD बिल और INSURANCE प्रीमियम

महंगा हो जाएगा CREDIT CARD बिल और INSURANCE प्रीमियम

नई दिल्ली: क्रेडिट कार्ड प्रदाता, बैंक तथा बीमा कंपनियों ने अपने ग्राहकों को एक जुलाई से GST के क्रियान्वयन के बाद अधिक कर लगने के बारे में सावधान करना शुरू कर दिया है. फिलहाल ग्राहक ऐसी सेवाओं के लिये 15 प्रतिशत सेवा कर देते हैं. एक जुलाई 2017 से जीएसटी सेवा कर और वैट जैसे सभी अप्रत्यक्ष कर को समाहित करेगा. वित्तीय सेवा तथा दूरसंचार को 18 प्रतिशत जीएसटी स्लैब में रखा गया है.

SBI कार्ड ने अपने ग्राहकों को SMS भेजकर उच्च कर प्रभाव के बारे में सावधान किया है. एसबीआई कार्ड के एसएमएस के अनुसार, ‘महत्वपूर्ण: भारत सरकार ने जीएसटी लागू करने करने का प्रस्ताव किया है. यह संभवत: एक जुलाई 2017 से लागू हो सकता है. परिणामस्वरूप 15 प्रतिशत मौजूदा सेवा कर के स्थान पर 18 प्रतिशत जीएसटी लगेगा.’ स्टैंडर्ड चार्टर्ड तथा एचडीएफसी ने भी अपने ग्राहकों को जीएसटी से संबंधित संदेश भेजे हैं.

आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल लाइफ इंश्योरेंस ने ई-मेल संदेश में अपने ग्राहकों से कहा कि नई अप्रत्यक्ष कर व्यवस्था के क्रियान्वयन के बाद टर्म पॉलिसी के लिये दिये जाने वाले प्रीमियम तथा ‘यूनिट लिंक्ड’ बीमा पॉलिसी पर 18 प्रतिशत जीएसटी लगेगा. इन उत्पादों पर फिलहाल 15 प्रतिशत जीएसटी लगता है. जीएसटी एंडाउमेंट पॉलिसी के लिये प्रीमियम भुगतान पर 2.25 प्रतिशत जीएसटी लगेगा. फिलहाल ग्राहकों को 1.88 प्रतिशत सेवा कर एंडोमांट पॉलिसी पर देना होता है.

About khabar On Demand Team

Check Also

‘मुज़फ्फरनगर-दी बर्निंग लव’ की टीम फ़िल्म के प्रोमोशन के लिए दिल्ली आई