Tuesday , 23 May 2017

भारत ने पाक को कुलदीप जाधव की मां की सौंपी अपील

नई दिल्ली: भारत ने कुलभूषण जाधव की मौत की सजा को रोकने के लिए प्रक्रिया आरंभ के मकसद से बुधवार को जाधव की मां की अपील पाकिस्तान को सौंपी.

भारतीय उच्चायुक्त गौतम बम्बावाले ने जाधव की तरफ से अपील पाकिस्तानी विदेश सचिव तहमीना जांजुआ को सौंपी. उन्होंने जाधव की मां की वह याचिका भी दी जिसमें उन्होंने अपनी बेटे की रिहाई के लिए पाकिस्तान सरकार के दखल की मांग की है और अपने बेटे से मिलने की इच्छा जताई है.

भारत ने 16वीं बार राजनयिक पहुंच का आग्रह किया

नई दिल्ली में भारतीय विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि तहमीना से मुलाकात के दौरान उनसे राजनयिक मदद का एक बार फिर आग्रह किया गया. भारत की ओर से जाधव के मामले में राजनयिक मदद का 16वीं बार आग्रह किया गया है.

बहरहाल, पाकिस्तानी मीडिया के अनुसार तहमीना जांजुआ ने बम्बावाले की मांग खारिज करते हुए कहा कि द्विपक्षीय समझौते के तहत राजनयिक मदद जासूसों के लिए नहीं, कैदियों के लिए होती है. पाकिस्तान बीते एक साल में कई बार 46 वर्षीय जाधव को राजनयिक मदद उपलब्ध कराने के भारत के अनुरोध को 15 बार खारिज कर चुका है.

पाकिस्तान की सेना जाधव को राजनयिक मदद उपलब्ध कराने की मंजूरी की किसी भी गुंजाइश को पहले ही खारिज कर चुकी है. जाधव को कथित रूप से जासूसी एवं विघटनकारी गतिविधियों के लिये मृत्युदंड की सजा सुनायी गयी है.

जाधव की मां पाकिस्तान जाकर उनसे मिलना चाहती हैं

अपनी याचिका में जाधव की मां ने पाकिस्तान सरकार से अपने बेटे की रिहाई के लिए दखल की मांग की है और अपने बेटे से मिलने की इच्छा जताई है. पाकिस्तान में अपील की व्यवस्था के अनुसार मौत की सजा पाए व्यक्ति को 40 दिनों के भीतर अपीली अदालत का रुख करना होता है. भारतीय विदेश मंत्रालय ने कहा, ‘पाकिस्तान से यह भी आग्रह किया गया है कि जाधव की मां और पिता को वीजा दिया जाए. वे उनसे मिलने के लिए पाकिस्तान जाना चाहते हैं और वे निजी रूप से याचिका और अपील दायर करना चाहते हैं. उन्होंने वीजा के लिए नई दिल्ली स्थित पाकिस्तानी उच्चायोग के समक्ष आवेदन किया है.’

About RITESH KUMAR

Check Also

मैं बचपन से ही ड्रामेबाज था:हैरी टांगरी

हैरी टांगरी को नाम से न पहचानें लेकिन उन्हें उनके चेहरे से बखूबी पहचाना जा …