Wednesday , January 24 2018
Home / खेल / चेन्नई पुलिस ने 7 वर्षो तक दबाए रखा ललित मोदी के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग केस, मुंबई पुलिस ने लौटाई फाइल!
PC: Google.com

चेन्नई पुलिस ने 7 वर्षो तक दबाए रखा ललित मोदी के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग केस, मुंबई पुलिस ने लौटाई फाइल!

नई दिल्ली: आईपीएल के पूर्व प्रमुख ललित मोदी के विरुद्ध मनी लॉन्ड्रिंग केस में एक नया मोड़ आ गया है. इस केस की जांच चेन्नई पुलिस सीबीआई से करवाने की पहल करते हुए फाइल मुंबई पुलिस को सौंप दी. बस लोचा यही हो गया मुंबई पुलिस ने चेन्नई पुलिस को साफ-साफ कह दिया की जब इस केस की एफआईआर चेन्नई में दर्ज हुई है तो जांच भी चेन्नई पुलिस ही करेगी।

तमिलनाडु पुलिस ने क्षेत्रीय अधिकार क्षेत्र के वजह से केस को मुंबई पुलिस को सौंपने के लिए फाइल भेजी थी। परंतु मुंबई पुलिस ने उसे वापस कर दिया। इस मामले को लेकर कुछ दिनों पर पहले ही तमिलनाडु पुलिस ने सीबीआई जांच की अनुशंसा की थी। और मामले को 14 जून को मुंबई पुलिस के पास भेज दिया था। इस मामले को चेन्नई पुलिस ने तक़रीबन 7 वर्षो तक अपने पास दबाए रखा। और जब मुंबई पुलिस के पास ‘स्पीडी प्रोब’ के लिए भेजा, तो मुंबई पुलिस ने यह कहते हुए फाइल वापस कर दी कि मामले की एफआईआर चेन्नई में दर्ज हुई थी।

मुंबई पुलिस के क्राइम ब्रांच क्रिमिनल इनवेस्टिगेशन डिपार्टमेंट(सीबीसीआईडी) के एडिशनल डीजीपी के जयंत मुरली ने फाइल वापस करने की बात स्वीकारते हुए से कहा कि हमने कानूनी तौर पर फाइल को वापस किया है। चूंकि मामला चेन्नई में दर्ज हुआ था। हम इस मामले को राज्य सरकार के पास भेज रहे हैं, वहां से जो हिदायत मिलेगी, हम उसी के अनुरूप कार्य करेंगे।

बीसीसीआई की ओर से दर्ज कराए गए मामले में ललित मोदी के विरुद्ध 425 करोड़, 125 करोड़, 200 करोड़ और 3.5 करोड़ की धोखाधड़ी करने का दोष लगाया था।

बता दें कि वर्ष 2010 में चेन्नई पुलिस ने ललित मोदी और अन्य के विरुद्ध केस दर्ज किया था। ये एफआईआर तत्कालीन बीसीसीआई सुप्रीमो एन.श्रीनिवासन ने दर्ज कराई थी। बाद में इस मामले में ईडी ने मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट के तहत मामला दर्ज किया था। और इसके साथ ही सेक्शन 420(धोखाधड़ी) के अतिरिक्त 120-बी के तहत आपराधिक साजिश का मामला भी दर्ज कराया था। इस मामले में बाद में चेन्नई पुलिस ने कई और धाराएं भी जोड़ी थी। पर अभी तक इस मामले में जांच तक शुरू नहीं हो पाई।

About Team Web

Check Also

Election commission

बिहार: 3 सीटों पर उपचुनाव के लिए टिकट की मारामारी शुरू, सबसे ज्यादा NDA में खींचतान