Sunday , February 24 2019
Home / देश / टेरर फंडिंग : NIA ने गिलानी के करीबी कारोबारी से पूछताछ की
PC: Indiatimes

टेरर फंडिंग : NIA ने गिलानी के करीबी कारोबारी से पूछताछ की

नई दिल्ली: राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने रविवार को कश्मीर घाटी में आतंकवादियों को धन उपलब्ध कराने के मामले की जांच के संबंध में कश्मीरी अलगाववादी नेता सैयद अली शाह गिलानी के सबसे करीबी व्यक्ति देवेंद्र सिंह बहल के दो स्थानों पर छापे मारे।

इसके बाद एनआईए ने बहल को गिरफ्तार कर लिया है। एनआईए को बहल के घर से चार मोबाइल फोन, एक टेबलेट, इलेक्ट्रोक्सि डिवाइस और कई वित्तिय दस्तावेज बरामद हुए।

एक संबंधित घटनाक्रम में, एनआईए ने गिलानी के दूसरे बेटे नसीम को समन भेजकर बुधवार को एजेंसी के आने को कहा। उनके बड़े बेटे नयीम को सोमवार एनआईए मुख्यालय तलब किया गया है।

अधिकारियों ने कहा कि गिलानी से करीबियों के आरोपों के बीच एनआईए ने रविवार सुबह एक वकील के कायार्लय और आवास पर छापेमारी की। अधिकारियों ने कहा कि उनकी विदेश यात्राओं पर नजर है और उनसे जल्द ही पूछताछ होगी।

आतंकवादियों के फंडिंग के मामले के संबंध में जम्मू में यह दूसरी छापेमारी है। इससे पहले एजेंसी ने एक कारोबारी पर छापा मारा था। एनआईए ने गिलानी के बड़े बेटे नयीम को सम्मन भेजकर आतंक को धन मुहैया कराने के मामले की जांच के संबंध में सोमवार को पूछताछ के लिए उसके सामने पेश होने को कहा। इस मामले में आतंकी संगठन लश्कर ए तैयबा के मुखौटा संगठन पाकिस्तान स्थित जमात उल दावा के प्रमुख हाफिज सईद को आरोपी बनाया गया है।

एनआईए ने अपनी प्राथमिकी में हुर्रियत कांफ्रेंस (गिलानी और मीरवाइज उमर फारूक नीत धड़े), हिजबुल मुजाहिदीन और एक सर्वमहिला संगठन जैसे अलगाववादी संगठनों को नामजद किया है। पेशे से एक सर्जन नयीम पाकिस्तान में 11 साल बिताने के बाद 2010 में वापस लौटे थे। उन्हें अलगाववादी संगठनों के समूह गिलानी नीत तहरीक ए हुर्रियत का स्वाभाविक उत्तराधिकारी माना जा रहा है।

उन्होंने कहा कि गिलानी के दामाद अल्ताफ अहमद शाह उर्फ अल्ताफ फंतूश को एनआईए द्वारा पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है और इस मामले में उससे पूछताछ की जा रही है।

About RITESH KUMAR

Check Also

आदिवासियों की समस्या को उजागर करती टी-सीरीज की शार्ट फिल्म ” जीना मुश्किल है यार” विश्व फ़िल्मफेस्टिवल में  

   आदिवासियों की समस्या को उजागर करती शार्ट फिल्म ‘ जीना मुश्किल है यार’ का …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *