Tuesday , 23 May 2017

दसवीं के छात्रों के स्टार्ट-अप ने मचाई धूम, मिली 3 करोड़ की फंडिंग

जयपुर। बचपन में जब खेलने कूदने की उम्र होती हैं तो हर बच्चा पढ़ाई के साथ-साथ खेल पर ही ध्यान देता हैं पर यदि इस नन्ही उम्र में कोई बच्चा अपनी कंपनी खोलकर प्रधानमंत्री मोदी के स्किल इंडिया को सफल बनाने और ख़ुद भी एक उधमी बने तो इससे बड़ी कामयाबी क्या होगी एक देश और माता-पिता के लिए। तीन बच्चों ने खुद की स्टार्ट-अप कंपनी शुरु कर दी।

राजस्थान के जयपुर के रहनेवाले तीन स्कूली बच्चों ने एक नई तरह की सॉफ्ट ड्रिंक बनाई हैं। जिसके वजह से इनलोगों की स्टार्ट-अप कंपनी ने धूम मचा दी है। हाल ही में उनकी कंपनी को 3 करोड़ रुपए का फंड मिला है।

दसवीं कक्षा के हैं स्टूडेंट हैं ये होनहार

 जयपुर के तीन बच्चों- चैतन्य गोलेचा, मृगांक गुज्जर और उत्सव जैन की स्टार्ट-अप कंपनी ने आजकल धूम मचायी हुई है। इनके स्टार्टअप को 3 करोड़ रुपए का फंड मिला है। ये बच्चें दसवीं कक्षा में पढ़ाई करते हैं।

बनाते हैं स्वास्थ्यवर्धक ड्रिंक

 बता दें कि तीनों छात्र अपनी स्टार्ट अप कंपनी के तहत स्वास्थ्यवर्धक ड्रिंक बनाते है। हैरानी की बात है कि इसका विचार इन्होने ने गूगल पर सर्च करके किया और सारी प्रोसेस वही से पता की । इनकी ड्रिंक की खासियत है कि इस ड्रिंक में किसी भी प्रिजरवेटिव का इस्तेमाल नहीं किया जाता और यह सेहतमंद भी है। इसी कारण इसकी मांग तेजी से बढ़ रही है।

फॉर्मूला पेटेंट कराने की हैं योजना

बता दें कि तीनों ही छात्र अपने इस आइडिया के साथ IIT-कानपुर और IIM-बेंगलुरु में भी प्रजेंटेशन दे चुके हैं। जहां इनके आइडिया को काफी सराहा भी गया था। फिलहाल तीनों ही छात्र अपने इस आइडिया को पेटेंट कराने की सोच रहे हैं। जिसमें इनके घर वाले भी इनकी मदद कर रहे हैं।

About RITESH KUMAR

Check Also

मैं बचपन से ही ड्रामेबाज था:हैरी टांगरी

हैरी टांगरी को नाम से न पहचानें लेकिन उन्हें उनके चेहरे से बखूबी पहचाना जा …