Tuesday , June 19 2018
Home / देश / जदयू की बड़ी कार्रवाई, राज्यसभा में शरद यादव की नेता पद से हुई छुट्टी
PC: DNA

जदयू की बड़ी कार्रवाई, राज्यसभा में शरद यादव की नेता पद से हुई छुट्टी

नई दिल्ली: शरद यादव की उनकी पार्टी ने ही दगा दे दिया, शनिवार को जनता दल यूनाइटेड ने उन्हें राज्यसभा में पार्टी के नेता पद से हटा दिया. जनता दल यूनाइटेड के एक नेता ने बताया की उनके स्थान पर पार्टी ने आरसीपी सिंह को सदन का नेता बना दिया है. ये बदलाव इस वजह से की गई है क्योंकि शरद यादव ने पार्टी के बीजेपी के साथ सरकार बनाने के ख़िलाफ़ थे पर अधिकतर विधायकों का समर्थन नीतीश और बीजेपी में जाने को लेकर था, जिसकी वजह से श्री यादव पार्टी में अलग-थलग पड़ गए थे.

PC: Twitter

इससे पहले पार्टी के राज्यसभा के सांसदों ने सभापति एम. वेंकैया नायडू से भेंट की और उच्च सदन में आरसीपी सिंह को जनता दल यूनाइटेड का नेता नियुक्त करने संबंधी काजजात उन्हें सौंपा. आरसीपी सिंह को बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के सबसे करीबियों में गिना जाता हैं.

राज्यसभा में जनता दल यूनाइटेड के 10 मेंबर हैं. कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी द्वारा बुलाई गई विपक्षी दलों की बैठक में शामिल होने की वजह कल रात पार्टी ने अपने राज्यसभा सदस्य अली अनवर को संसदीय दल से निलंबित कर दिया था.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और शरद यादव के बीच मतभेद तब सामने आए थे जब पिछले महीने नीतीश कुमार ने कांग्रेस और लालू प्रसाद यादव की पार्टी राजद के साथ संबंध तोड़ बिहार में बीजेपी के साथ नई सरकार बनाने के लिए हाथ मिला लिए थे.

बिहार दौरे के दरम्यान शरद यादव ने कहा था कि उनका अभी भी यही मानना है कि वह कांग्रेस और राजद के साथ महागठबंधन का हिस्सा हैं. जनता दल यूनाइटेड सिर्फ नीतीश कुमार की ही पार्टी नहीं है बल्कि उनकी भी पार्टी है. शरद यादव ने यह भी दावा किया था कि असली जनता दल यूनाइटेड उनके साथ है और जो जनता दल यूनाइटेड नीतीश के साथ है वो सरकारी जनता दल यूनाइटेड है. इधर, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने आज ट्वीट कर कहा कि सत्तारूढ़ राजग में शामिल होने के लिए नीतीश कुमार को उन्होंने आमंत्रित किया है.

 

जनता दल यूनाइटेड ने अपने राज्यसभा सदस्य अली अनवर अंसारी को कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी द्वारा बुलाई गई विपक्षी दलों की बैठक में शामिल होने के कारण से पहले ही संसदीय दल से निलंबित कर चुकी है. पार्टी के प्रवक्ता के सी त्यागी ने बताया कि कांग्रेस नीत संप्रग से जनता दल यूनाइटेड द्वारा अपने रिश्ते समाप्त करने के बावजूद विपक्षी दलों की बैठक में हिस्सा लेने के लिए अंसारी को संसदीय दल से निलंबित किया गया है. अंसारी ने जनता दल यूनाइटेड अध्यक्ष और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की, बिहार में गठबंधन से अलग हो जाने और बीजेपी के साथ मिल कर सरकार बनाने के लिए खुली आलोचना की थी.

About Team Web

Check Also

सुल्तानपुर: अवैध खनन का मामला उठाने पर पत्रकार को मिल रही जान से मारने की धमकी

सुलतानपुर (ए के शुक्ल): ऐसा प्रतीत हो रहा है कि सुल्तानपुर जनपद के मोतिगरपुर थाने …