Sunday , February 24 2019
Home / देश / सोनिया गांधी के राजनीतिक सचिव अहमद पटेल की बढ़ी मुश्किल, राज्यसभा पहुंचा हुआ कठिन!
PC: Google.com

सोनिया गांधी के राजनीतिक सचिव अहमद पटेल की बढ़ी मुश्किल, राज्यसभा पहुंचा हुआ कठिन!

नई दिल्ली: गुजरात कांग्रेस में सब कुछ सही नहीं चल रहा है. जहां पहले पार्टी के दिग्गज नेता शंकर सिंह वाघेला ने पार्टी का साथ छोड़ा वही अब तीन विधायकों और मुख्य सचेतक ने पार्टी को बाय-बाय कह दिया.

इलेक्शन से ठीक पहले कांग्रेस को लगातार बड़े झटके लग रहे हैं. गुजरात में कांग्रेस के तीन विधायकों ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया और मुख्य सचेतक के साथ बीजेपी का दामन थाम लिया.

कांग्रेस विधायकों के पार्टी बदलने से कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के राजनीतिक सचिव अहमद पटेल का राज्यसभा पहुंचा कठिन हो सकता है. सिद्धपुर से विधायक मुख्य सचेतक बलवंत सिंह राजपूत को बीजेपी ने राज्यसभा की तीसरी सीट के लिए नामित किया है, जिसके लिए अहमद पटेल ने अपना नामांकन भरा है. राजपूत कांग्रेस के बागी नेता शंकर सिंह वाघेला के रिश्तेदार हैं. बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह तथा केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी पार्टी के दो अन्य उम्मीदवारों में से हैं.

इस्तीफा देने वाले दो अन्य विधायकों में विरमगम से तेजश्री पटेल तथा विजापुर से विधायक पीआई पटेल हैं. तीनों विधायकों ने गुरुवार दोपहर विधानसभा अध्यक्ष रमनलाल वोरा को अपना इस्तीफा सौंप दिया, जिसके बाद वे बीजेपी में शामिल हो गए.

बीजेपी का दामन थामने के तुरंत बाद बलवंत सिंह राजपूत को राज्यसभा की तीसरी सीट के लिए बीजेपी का उम्मीदवार नामित कर दिया गया. आठ अगस्त को गुजरात में राज्यसभा की तीन सीटों के लिए मतदान होगा. चर्चा है कि अभी और विधायक कांग्रेस छोड़कर बीजेपी का दामन थाम सकते हैं.

About RITESH KUMAR

Check Also

आदिवासियों की समस्या को उजागर करती टी-सीरीज की शार्ट फिल्म ” जीना मुश्किल है यार” विश्व फ़िल्मफेस्टिवल में  

   आदिवासियों की समस्या को उजागर करती शार्ट फिल्म ‘ जीना मुश्किल है यार’ का …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *