Thursday , May 24 2018
Home / देश / लोकतंत्र के सभी स्तंभ पूरी करें लोगों की जरूरतें, पर ‘हद’ में रहे: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
Prime minister narendra modi, Legislature, judiciary, fulfill people’s wishes, Constitution, PM Modi stand on judiciary
PC: Kodmedia

लोकतंत्र के सभी स्तंभ पूरी करें लोगों की जरूरतें, पर ‘हद’ में रहे: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोकतंत्र के सभी अंगों से अपील की है कि वो जनहित के काम करते रहे, पर ‘अपनी हदों’ में रहकर। दरअसल, उसकी इस अपील को इस बात से जोड़कर देखा जा रहा है, जिसमें रविवार को ही केंद्रीय कानून मंत्री और सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश के बीच गर्मागर्म बहस हुई थी। इस तरह से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ये जरूर समझाने की कोशिश की है, वो किसी भी तरह के आंतरिक टकराव को नहीं चाहते।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को कहा कि न्यायपालिका, कार्यपालिका और विधायिका ये तीनों ही हमारे संविधान की रीढ़ है। इनमें सामंजस्य बना रहना चाहिए। इन्हें साथ मिलकर हमारे देश की जनता की जरूरतों को पूरा करना चाहिए। हां, ये जरूरी है कि सभी अपनी ‘हदों’ में रहें।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आगे जोड़ा कि ये(न्यायपालिका, कार्यपालिका और विधायिका) सभी एक ही परिवार का हिस्सा हैं। हमें किसी को सही या गलत साबित नहीं करना है। हम हमारी अपनी ताकत जानते हैं, साथ ही अपनी कमजोरियां भी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का ये बयान तब आया, जब थोड़े ही देर पहले केंद्रीय कानून मंत्री रवि शंकर प्रसाद और सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्र के बीच गर्मागर्म बहस हुई। दोनों के बीच राष्ट्रीय कानून दिवस के मौके पर रविवार को तमाम न्यायाधीशों और शीर्ष वकीलों की मौजूदगी के बीच हुई। ये बहस न्यायपालिका नियुक्ति के मुद्दे पर हुई थी।

About Team Web

Check Also

कर्नाटक चुनाव:-प्रधानमंत्री मोदी और कांग्रेस के अदयक्ष राहुल गांधी एक दूसरे पे बार पलटबार किये

कर्नाटक विधानसभा चुनाव जैसे जैसे करीब आ रहे हैं वैसे ही बीजेपी और कांग्रेस एक …