Monday , June 26 2017
Home / खबरें अभी अभी / चार महीनों में 39,000 पाकिस्तानियों को सऊदी अरब ने किया बाहर

चार महीनों में 39,000 पाकिस्तानियों को सऊदी अरब ने किया बाहर

नई दिल्ली। मंगलवार को जारी हुई सऊदी गजेट की रिपोर्ट के मुताबिक, पिछले चार महीनों में 39,000 पाकिस्तानियों को सऊदी अरब से वापस उनके देश भेजा गया है। इन्हें डिपॉर्ट करने के पीछे वीजा नियमों के उल्लंघन को कारण बताया गया है। सऊदी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने यहां मौजूद सभी पाकिस्तानी नागरिकों की ‘अच्छी तरह से जांच किए जाने’ का भी निर्देश जारी किया। आशंका है कि सऊदी में रहने वाले कुछ पाकिस्तानी इस्लामिक स्टेट (IS) के साथ जुड़े हो सकते हैं या फिर हो सकता है कि वे इस आतंकी संगठन से साहनुभूति रखते हों।

यह रिपोर्ट सुरक्षा अधिकारियों से मिली जानकारियों के आधार पर तैयार की गई है। सूत्रों ने बताया कि कुछ पाकिस्तानी नागरिक आतंकी संगठन दायेश (IS) की गतिविधियों में शामिल थे और यह सऊदी के लिए चिंता की बात है। इसके अलावा, कई पाकिस्तानी नागरिकों को ड्रग तस्करी, चोरी, धोखाधड़ी और मारपीट जैसे आरोपों में भी पकड़ा गया। इन सभी घटनाओं को मद्देनजर रखते हुए शाउरा काउंसिल की सुरक्षा समिति के अध्यक्ष अब्दुल्ला अल-सादों ने आदेश दिया कि किसी भी पाकिस्तानी नागरिक को सऊदी में काम दिए जाने से पहले उसकी ठीक तरह से जांच की जाए।

पहले भी आतंकी मामलों में गिरफ्तार हुए हैं पाकिस्तानी नागरिक

सऊदी आंतरिक मंत्रालय के एक अधिकारी के मुताबिक, लगभग 82 पाकिस्तानी नागरिक आतंकवाद और सुरक्षा संबंधी मामलों में संदिग्ध हैं।उन्हें फिलहाल खुफिया विभाग की जेलों में कैद कर दिया गया है। रिपोर्ट के मुताबिक, हाल ही में अल-हराज़ात और अल-नसीम जिलों में हुए आतंकी वारदातों के सिलसिले में करीब 15 पाकिस्तानियों को गिरफ्तार किया गया। इनमें महिलाएं भी शामिल हैं।

बम धमाके की योजना बना रहे थे 2 पाकिस्तानी

आतंरिक मंत्रालय ने बताया कि पिछले साल रमजान के दौरान पाकिस्तान के रहने वाले अब्दुल्ला गुलज़ार खान ने जेद्दाह स्थित अमेरिकी दूतावास के पास डॉक्टर सोलिमान फाखिह अस्पताल के नजदीक एक कार पार्किंग में खुद को उड़ा दिया था। वह पिछले 12 सालों से सऊदी में रह रहा था। 2016 में ही सऊदी सुरक्षा बलों ने एक आतंकवादी हमले के प्रयास को नाकाम कर दिया था। इस घटना के सिलसिले में दो पाकिस्तानी, एक सीरियनऔर एक सूडान के नागरिक को गिरफ्तार किया गया। ये सभी मिलकर जेद्दाह के अल-जवाहरा स्टेडियम में बम धमाका करने की योजना बना रहे थे। इस स्टेडियम में सऊदी और संयुक्त अरब अमीरात (UAE) के बीच फुटबॉल मैच होना था, जिसे देखने 60,000 से अधिक लोग पहुंचने वाले थे।

About Anand kumar chauhan

A young and sharp journalist from New Delhi

Check Also

बॉलीवुड में शाहरुख खान के 25 साल पूरे

नई दिल्ली: साल 1992 में ‘दीवाना’ फिल्म से अपने करियर की शुरुआत करने वाले सुपरस्टार …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *