Sunday , February 24 2019
Home / देश / उप जिला अधिकारी भानपुर राजेश कुमार ने कर रखा है उचित दर विक्रेताओं से सांठगांठ खाद्यान्न की कालाबाजारी जोरों पर

उप जिला अधिकारी भानपुर राजेश कुमार ने कर रखा है उचित दर विक्रेताओं से सांठगांठ खाद्यान्न की कालाबाजारी जोरों पर

रिपोर्टर: कमलेश तिवारी

रिपोर्टर (के0के0त्रिपाठी)बस्ती रिपोर्टिंग क्रम में व्यूरो चीफ अरुण त्रिपाठी के साथ मैं रिपोर्टर के0के0त्रिपाठी
प्राप्त जानकारी के अनुसार, गरीबों के लिए सरकार द्वारा चलाई गई पात्र गृहस्थी योजना कोटेदारों व जिम्मेदारों के बीच फंस कर रह गई है। कार्डधारकों को समय पर और निर्धारित मूल्य पर खाद्यान्न व मिट्टी तेल नहीं मिल पा रहा है। ऐसे में इस योजना का भानपुर तहसील क्षेत्र में बुरा हाल है। आपूर्ति विभाग द्वारा तहसील क्षेत्र के सल्टौआ में 103 व रामनगर ब्लाक क्षेत्र में 91 उचित दर की दुकानों का संचालन किया जा रहा है। गरीबों के लिए सरकार की अति महत्वाकांक्षी योजना के तहत अंत्योदय कार्ड धारकों को 20 किलो गेहूं व 15 किलो चावल मात्र 85 रुपये में दिये जाने का आदेश है।

मगर अंत्योदय कार्ड धारकों को कोटेदारों द्वारा 85 रुपये की जगह 110 रुपये की वसूली कर 35 किलो की जगह मात्र 25 से 30 किलो ही खाद्यान्न दिया जा रहा है। यही हाल पात्र गृहस्थी के कार्ड धारकों का है। इन्हें प्रति यूनिट 3 किलो गेहूं 2 रुपये प्रति किग्रा की दर से व 2 किलो चावल 3 रुपये प्रति किग्रा की दर मिलना है जिसकी कुल कीमत मात्र 12 रुपये देनी है। उचित दर विक्रेताओं द्वारा विभागीय अधिकारियों की मिली भगत से अभी भी अनेक स्थानों पर गेहूं व चावल की कीमत 5 रुपये एवं 6 रुपये प्रति किग्रा के रेट से वसूला जा रहा है। कुछ उचित दर विक्रेताओं द्वारा यूनिट के हिसाब से अनाज भी नहीं दिया जा रहा है। रेट अधिक लेने के साथ ही उनके द्वारा घटतौली भी की जाती है। कार्डधारकों द्वारा विरोध किए जाने पर उन्हें गल्ला देने से मना कर दुकान से भगा दिया जाता है। उपजिलाधिकारी राजेश सिह ने बताया कि शिकायत मिलने पर संबंधित कोटेदार के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जाएगी।

About RITESH KUMAR

Check Also

आदिवासियों की समस्या को उजागर करती टी-सीरीज की शार्ट फिल्म ” जीना मुश्किल है यार” विश्व फ़िल्मफेस्टिवल में  

   आदिवासियों की समस्या को उजागर करती शार्ट फिल्म ‘ जीना मुश्किल है यार’ का …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *