Wednesday , January 17 2018
Home / Uncategorized / तो ये है कांग्रेस की दूसरी रणनीति
कांग्रेस पार्टी

तो ये है कांग्रेस की दूसरी रणनीति

लखनऊ। समाजवादी पार्टी से गठबंधन होगा या नहीं इन दोनों ही संभावनाओं को लेकर कांग्रेस ने दो रणनीति तैयार की है। पहली रणनीति के तहत कांग्रेस ने सपा से गठबंधन होने की उम्मीद में अपने करीब 80 प्रत्याशियों के नाम फाइनल कर लिए हैं। पार्टी का मानना है कि अगर गठबंधन हुआ तो ये 80 प्रत्याशी रहेंगे, नहीं भी हुआ तो भी ये प्रत्याशी रहेंगे। यही नहीं दूसरी रणनीति के तहत अगर सपा से गठबंधन नहीं होता है तो कांग्रेस अन्य किसी पार्टी से गठबंधन नहीं करेगी और अकेले ही मैदान में उतरेगी, इसके लिए 403 सीटों पर संभावित प्रत्याशियों के नाम शॉर्टलिस्ट किए जा चुके हैं। गौर करने वाली बात ये है कि उत्तर प्रदेश की राजनीति में अभी तक मुलायम सिंह यादव ने सीधे-सीधे कांग्रेस के साथ गठबंधन कभी नहीं किया है। हालांकि उन्होंने केंद्र में कांग्रेस की सरकार को बाहर से समर्थन जरूर किया लेकिन यूपी में कभी कांग्रेस और मुलायम साथ नहीं आए। यही नहीं जब जब कांग्रेस को चाहे विधानपरिषद में हो या राज्यसभा में मुलायम ने हमेशा उसका साथ निभाकर अपनी अहमियत का एहसास जरूर कराया।

वहीं गठबंधन न होने की स्थिति में पार्टी ने जो प्लान बी बनाया है, उसके तहत हर विधानसभा सीटों पर संभावित प्रत्याशियों की लिस्ट तैयार कर ली गई है। उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी की तरफ से ज्यादातर संभावितों की सूची दिल्ली भेजी जा चुकी है। लेकिन इन पर अंतिम फैसला गठबंधन के न होने पर ही लिया जाएगा। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राजबब्बर के अनुसार प्रदेश की 403 सीट पर कांग्रेस के एक सीट पर तीन से पांच दावेदार हैं। यही कारण है कि प्रत्याशी के चयन में इतना समय लग रहा है। जल्द ही प्रत्याशियों की घोषणा हो जाएगी।

About आयुष गुप्ता

Check Also

कानपुर में करोड़ों रुपये के पुराने नोट बरामद