Sunday , November 19 2017
Home / लेटेस्ट न्यूज / कीमत राय की कीमती आँखों ने देखा सपना और पाया वो मुकाम जो सबके बस की नहीं!

कीमत राय की कीमती आँखों ने देखा सपना और पाया वो मुकाम जो सबके बस की नहीं!

नई दिल्ली। कहतें हैं ना की यदि कुछ करने की ठान लिया जाए तो जब तक आदमी उस मुकाम को हासिल ना कर ले चैन से नहीं बैठ सकता हैं। अब कामयाब होना हैं तो प्लान और तैयारी भी उसके माफिक होनी जरुरी हैं। आप के अंदर हुनर और जूनून है तो आप अपने मेहनत के दम पर किसी भी मंजिल को पा सकते हैं।

आज हम एक ऐसे ही इंसान की कहानी लेकर आये हैं जो कभी कंपनी के डिस्ट्रीब्यूटर थे पर नसीब ऐसा बदला की वो मालिक बन गए।

हैवेल्स का नाम आज दुनिया के कोने-कोने में फैला हुआ है। हैवेल्स को बुलंदियों के सितारे दिखाने वाले शख्स किसी उद्योगपति या करोड़पति के घर में पैदा नहीं हुए थे, बल्कि एक साधारण से परिवार में जन्म लेने वाले शख्स ने कंपनी को 7 लाख से शुरू कर 85 अरब के टर्नओवर तक पहुंचा दिया।

इस शख्स का नाम कीमत राय गुप्ता था, जिन्होंने अपनी मेहनत के दम पर कंपनी को फर्श से अर्श पर लाकर खड़ा कर दिया और उद्योग जगत में अपने नाम का सिक्का जमा दिया। कीमत राय गुप्ता की एक छोटी सी इलेक्ट्रिकल की दुकान थी, और उसी से पैसे जोड़कर उन्होंने हैवेल्स कंपनी के डिस्ट्रीब्यूटर बन गए।

1971 में कंपनी घाटे में पहुंच गई और हालत इतनी खराब हो चुकी थी कि उसे चलाने के लिए उसके मालिक के पास शायद पैसे नहीं बचे थे। कंपनी के मालिक ने कंपनी को बेचने का मन बना लिया, तो कीमत राय गुप्ता ने कंपनी को 7 लाख रुपए में खरीद लिया। कीमत राय ने कंपनी को दोबारा से खड़ा करने के लिए जी-जान से लग गए। कीमत राय की मेहनत और विश्वास ने आखिर इस लड़ाई को जीत लिया, और देखते ही देखते कंपनी ने सभी को पीछे छोड़ते हुए बहुत आगे निकल गई।

About khabar On Demand Team

Check Also

‘मुज़फ्फरनगर-दी बर्निंग लव’ की टीम फ़िल्म के प्रोमोशन के लिए दिल्ली आई