Thursday , October 18 2018
Home / टीवी / देश पर ‘सुपर इमरजेंसी’ थोप दी गई है- ममता बनर्जी
देश पर ‘सुपर इमरजेंसी’ थोप दी गई है- ममता बनर्जी
देश पर ‘सुपर इमरजेंसी’ थोप दी गई है- ममता बनर्जी

देश पर ‘सुपर इमरजेंसी’ थोप दी गई है- ममता बनर्जी

असम में बहुप्रतीक्षित राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) का अंतिम मसौदा जारी कर दिया गया है. असम देश में एकमात्र ऐसा राज्य है जहां एनआरसी जारी किया गया है, जिसमें पूर्वोत्तर राज्य के कुल 3.29 करोड़ आवेदकों में से 2.89 करोड़ लोगों के नाम हैं. जबकि करीब 40 लाख लोग अवैध पाए गए हैं.
असम में नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटीजन (NRC) का आंकड़ा जारी होने के बाद देश की राजनीति गर्मा गई है. सड़क से लेकर संसद तक इस मुद्दे पर तीखी बहस हो रही है. गुरुवार को तृणमूल कांग्रेस (TMC) के प्रतिनिधिमंडल को असम के एयरपोर्ट पर ही हिरासत में ले लिया गया, जिसके बाद से ही पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के निशाने पर मोदी सरकार है.
टीएमसी ने इसी मुद्दे पर शुक्रवार को लोकसभा में असम DG और राज्य के गृह सचिव के खिलाफ विशेषाधिकार हनन का प्रस्ताव ला सकती है, उन्होंने इसके लिए नोटिस भी दे दिया है. उम्मीद जताई जा रही है कि शुक्रवार को भी संसद में इस मुद्दे पर काफी बवाल हो सकता है. टीएमसी के साथ-साथ पूरा विपक्ष इस मुद्दे को लेकर सरकार पर निशाना साधे हुए है.
दूसरी ओर NRC के मुद्दे पर ममता बनर्जी की चिंताएं बढ़ती जा रही हैं. गुरुवार को ही असम TMC के चीफ द्विपन पाठक ने ये कहकर इस्तीफा दे दिया कि NRC के बारे में ममता बनर्जी को ज्यादा नहीं पता है. उनके अलावा दो अन्य नेताओं ने भी पार्टी को अलविदा कह दिया.

टीएमसी ने इसी मुद्दे पर DG और राज्य के गृह सचिव के खिलाफ विशेषाधिकार हनन का प्रस्ताव ला सकती है.
टीएमसी ने इसी मुद्दे पर DG और राज्य के गृह सचिव के खिलाफ विशेषाधिकार हनन का प्रस्ताव ला सकती है.
असम में अभी भी हालात ठीक नहीं हैं, कई इलाकों में धारा 144 लागू की गई है. असम पुलिस का कहना है कि जिन टीएमसी नेताओं ने इसका उल्लंघन किया है, उनपर कार्रवाई होगी. टीएमसी कार्यकर्ताओं के साथ झड़प के दौरान ही असम पुलिस के दो कॉन्स्टेबल और एक अधिकारी घायल हो गया.
पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने गुरुवार को कहा कि बीजेपी के शासन में देश पर ‘सुपर इमरजेंसी’ थोप दी गई है. ममता बनर्जी ने यह प्रतिक्रिया असम के सिलचर एयरपोर्ट पर टीएमसी के प्रतिनिधिमंडल के साथ हुई धक्का-मुक्की पर दी है. ममता बनर्जी ने कहा, ‘वे (टीएमसी प्रतिनिधिमंडल के सदस्य) पीड़ितों से मिलने जा रहे थे, लेकिन उन्हें एयरपोर्ट से बाहर नहीं निकलने दिया गया. एयरपोर्ट के अंदर उन्हें पुलिस ने पीटा. औरतों तक को नहीं बख्शा गया.

About Amit Kumar

Check Also

नमस्ते इंग्लैंड” के लिए अक्षय कुमार ने दिया एक खास संदेश!

सुपरहिट फ़िल्म नमस्ते लंदन के साथ दर्शकों का मनोरंजन करने के बाद, निर्देशक और निर्माता …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *