Saturday , December 15 2018
Home / देश / इंडियन परफॉर्मिंग राइट सोसाइटी लिमिटेड (“आईपीआरएस”) अमेज़ॅन इंडिया के साथ सहयोग करने के लिए तैयार

इंडियन परफॉर्मिंग राइट सोसाइटी लिमिटेड (“आईपीआरएस”) अमेज़ॅन इंडिया के साथ सहयोग करने के लिए तैयार

 

इंडियन परफॉर्मिंग राइट सोसाइटी लिमिटेड (“आईपीआरएस”) को यह घोषणा करते हुए हर्ष है कि इसने भारत में अमेज़ॅन प्राइम म्यूज़िक के लिए (संगीत और साहित्यिक कार्यों के लिए) आईपीआरएस संगीत प्रकाशन प्रदर्शनों के संबंध में अमेज़ॅन इंडिया के साथ सहयोग किया है। अमेज़ॅन इंडिया की हाल ही में लॉन्च की गई विज्ञापन मुक्त संगीत लहराने वाली सेवाअमेज़ॅन प्राइम म्यूज़िककई भाषाओं,युगों और भारतीय संगीत की विधाओं में फैले दस लाख से अधिक कार्यों / स्वत्वाधिकारों के आईपीआरएस प्रदर्शनों तक पहुँच प्राप्त करेगी।

आईपीआरएस, जिसे कॉपीराइट एक्ट 1957 के तहत नवंबर 2017 में भारत सरकार द्वारा कॉपीराइट सोसायटी के रूप में पंजीकरण प्रदान किया गया था, 4,000 से अधिक भारतीय लेखकोंसंगीतकार और प्रमुख संगीत प्रकाशकों का प्रतिनिधित्व करती है जिसमें सरेगामाटाइम्स म्यूज़िकसोनीआदित्यटिप्स म्यूज़िक और वीनस शामिल हैं। आईपीआरएस गीतों और संगीत कार्यों में सार्वजनिक और यांत्रिक अधिकारों के लिए संचार के संबंध में अपने सदस्यों के एक समनुदेशिती के रूप में गीत और संगीत कार्यों को प्रशासित करती है।

आईपीआरएस के अध्यक्ष श्री जावेद अख़्तर ने कहा,अमेज़ॅन इंडिया के साथ आईपीआरएस व्यवस्था देश में आईपीआरएस और संगीत समुदाय के लिए एक नये युग की अग्रदूत है। दृढ़ता से एकजुट आईपीआरएस के साथभारतीय गीतकार और संगीत रचयिता अंततः हमारे संगीत प्रकाशक सदस्यों के साथ-साथ भारत में कॉपीराइट कानून में ऐतिहासिक परिवर्तनों के लाभ उठाना आरंभ कर सकते हैं। आईपीआरएस भारत में इस तरह के मंचों के साथ इसी तरह के सहयोगात्मक और सकारात्मक संबंधों की आशा करती है और पारदर्शी और नैतिक कार्य करने के लिए प्रतिबद्ध हैं”। अमेज़ॅन म्यूज़िक के निदेशक सहस मल्होत्रा ने कहा,हमें आईपीआरएस के साथ सहयोग करके खुशी है और हम भारतीय संगीत उद्योग के सभी महत्वपूर्ण हितधारकों के साथ अपने संबंधों को मज़बूत करने को उत्सुक हैं। हम विज्ञापन मुक्त अमेज़ॅन प्राइम म्यूज़िक की पेशकश के साथ अपने ग्राहकों को एक परिवर्तनकारी संगीत सुनने का अनुभव प्रदान करते रहेंगे जो कि भारत में प्राइम सदस्यों के लिए बिना किसी अतिरिक्त लागत पर उपलब्ध है”।

आईपीआरएस के सीईओ श्री राकेश निगम ने कहा,भारत में अमेज़ॅन म्यूज़िक के साथ काम करना इस बात का प्रतीक है कि नए सिरे से पुनर्गठित आईपीआरएस सक्रिय और पारदर्शी रूप से अमेज़ॅन जैसी संस्थाओं के साथ भागीदारी करके अपने सदस्यों के लिए बहुत कुछ प्राप्त कर सकती हैं”।

 

About Web Team

Check Also

क्या “उरी” में सर्जिकल हमले से जुड़े अनकहे और अनसुने राज़ से उठेगा पर्दा?

आर.एस.वी.पी की आगामी फ़िल्म “उरी” ने अपनी प्रत्येक घोषणा के साथ फ़िल्म के प्रति दर्शकों …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *