Thursday , January 24 2019
Home / मनोरंजन / थिएटर्स की दुनिया का उभारता सितारा, लेखक और निर्देशक शाह नवाज खान की बड़ी सफलता

थिएटर्स की दुनिया का उभारता सितारा, लेखक और निर्देशक शाह नवाज खान की बड़ी सफलता

 

नई दिल्ली:रंगमंच के नायक, लेखक और निर्देशक शाह नवाज खान ने हाल ही में अपने हुनर का एक और नया उदाहरण पेश किया है जो आपको थिएटर्स की दुनिया में और प्रभावित करेगा।

आज के दौर में जहां बॉलीवुड फिल्में दर्शकों के बीच में अपनी अलग छाप छोड़ रही है तो वही थिएटर प्ले भी लोगो के बीच अपना गहरा प्रभाव छोड़ते हुए दिख रहे है, जिसका जीता जागता उदाहरण है ब्लू फ़ादर थिएटर में आयोजित नाटक “उस्ताद ज़ाक़”। बीते समय प्रसिद्ध लेखक और निर्देशक शाह नवाज खान ने नाटक “उस्ताद ज़ाक़” का आयोजन किया था जो लोगो के बीच काफी मशहूर रहा।

डरअसल 28 जुलाई को मंडी हाउस के समुख ऑडिटोरीअम में प्रसिद्ध लेखक और निर्देशक शाह नवाज खान द्दारा एक शानदार प्ले का आयोजन किया गया था जिसका शीर्षक था “उस्ताद ज़ाक़”। “उस्ताद ज़ाक़” शीर्षक ऊर्दु अरब के मशहूर शायर मोहम्मद इब्राहिम ज़ौक़ से लिया गया है। जिनका असली नाम शेख़ इब्राहिम था। 18 वी सदी के इस शानदार प्ले के माध्यम से लेखक शाह नवाज खान ने यह दर्शाया है कि कैसे एक गरीब वर्ग का शेख़ इब्राहिम अपनी मेहनत से मुगल साम्राज्य के आखिरी शंहशाह के दरबार में एक रॉयल कवि यानि नामदार कवि बनता है।

लेखक और निर्देशक शाह नवाज खान

समुख ऑडिटोरीअम में आयोजित इस नाटक में लोगो ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया और पूरे नाटक के दौरान लोगो ने सभी कलाकारों का तालियों के साथ उत्साह भी बढ़ाया जिसके बाद हम यह कह सकते है कि थिएटर प्ले भी अब किसी से कम नही है।

आपको बता दें कि इस पूरे कार्यक्रम को प्रसिद्द लेखक और निर्देशक शाह नवाज खान द्दारा आयोजित किया गया था। रंगमंच के इस कार्यक्रम को लेखक शाह नवाज खान द्दारा लिखा गया है जिसका निर्दशन भी उन्हीं के द्दारा किया गया था।

शाह नवाज खान ने साल 2012 में थिएटर आर्ट, विजुअल आर्ट में स्नातकोत्तर दिल्ली के नामी कॉलेज इग्नू से किया है। साथ ही स्नातक की पढ़ाई जाकिर हुसैन कॉलेज और जामिया मिलिया इस्लामिया से की है। शाह नवाज खान ने इससे पहले भी कई नाटक लिखे है और आयोजित किए है। जिनमें से कई है “नगरी चौपट राजा”, “बैक्टीरिया अदालत में”, “कौन बड़ा कौन छोटा” और “जूलियस स़ीजर” आदि। समाज में जागरुकता फैलाने के लिए शाह नवाज खान रंगमंच का समय समय उपयोग करते है और साथ ही थिएटर वर्कशॉप भी आयोजित करवाते है। शाह नवाज खान बहुचर्चित लेखक, निर्देशक के साथ रंगमंच कला में 50 से भी ज्यादा मुख्य किरदार की भूमिका निभा चुके है। शाह नवाज खान ने अपने करियर में कई बड़े और मशहूर निर्देशकों के साथ काम किया है। उन्होंने स्वर्गीय मोहम्मद वसीम, सनदीप सिंह समेत कई नामी निर्देशकों के साथ काम किया है और इसी जज्बे और हुनर को देखते हुए मिनिस्ट्री ऑफ कल्चर ने नाटक “उस्ताद ज़ाक़” में अपना पूरा समर्थन भी दिया।

बता दें कि शाह नवाज खान समेत रंगमंच के इस नाटक में कई और लोगो ने भी उस्ताद ज़ाक़ में अपना भरपूर सहयोग दिया था। रंगमंच में नाटक कला के दौरान थिएटर खचाखच लोगो से भरा दिखा। लोगो ने नाटक को पंसद करते हुए अपनी तालियों की गड़गड़ाहट से सभी कलाकारों का स्वागत किया।

नाटक “उस्ताद ज़ाक़” में कई किरदारों ने दर्शकों के दिलों में एक अलग ही छाप छोड़ी जिनकी बदौलत किरदारों को दर्शकों द्दारा काफी वाहवाही भी मिली। 18 वी सदी पर आधारित इस कार्यक्रम में अयान खान (बहादुर शाह जफर), सुधीर रिखरी ( इब्राहिम ज़ाक़) मीरा मैन्दौला( बेगम जीनत महेल) समेत अन्य कलाकारों ने अपनी बेहतरीन अदाकारी दिखाई। साथ ही इस पूरे कार्यक्रम में नन्हें मुन्हें बाल कलाकारों ने भी अपनी प्रतिभा को खुलकर पद्रर्शित किया। बाल कलाकार में अरीब, मुनीब, तौहीद, नमन और फैरिया ने अपना नाटकीय प्रदर्शन किया जिसे लोगो ने खूब पंसद भी किया। नाटक “उस्ताद ज़ाक़़” को शाह नवाज खान ने इस बखुबी से आयोजित किया कि इसमें ऑन स्टेज किरदारों की भूमिका से लेकर ऑफ स्टेज का पूरा ख्याल रखा गया। लाइटिंग अरैन्ज्मन्ट से लेकर कास्टूम डिजाइन, बेकग्राउंड म्युजिक काबिले तारीफ रहा।
बहराल हम ऐसा कह सकते है कि नामी लेखक शाह नवाज खान आज के दौर में अहम नायक की भूमिका निभा रहे है जिनका उद्देश्य सामाजिक जागरुकता से लेकर प्राचीन सदी को तरोताज़ा रखना है।

 

तोशी मेन्दोला

About MD MUZAMMIL

Check Also

पावन श्रीराम कथा, जन्माष्ट्मी पार्क, पंजाबी बाग में हुआ भव्य समापन हुआ

  श्री महालक्ष्मी चैरिटेबल ट्रस्ट, पंजाबी बाग नें दिल्ली में पहली बार श्रदेय आचार्य श्री …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *