Wednesday , August 23 2017
Home / मनोरंजन / बॉलीवुड / FILM REVIEW: रात के अंधेरे में सच्चाई दिखाती रवीना टंडन की ‘शब’

FILM REVIEW: रात के अंधेरे में सच्चाई दिखाती रवीना टंडन की ‘शब’

रवीना टंडन की ‘शब’ आज देश के सभी सिनेमाघरों में रिलीज हो गई है । फ़िल्म वाकई में काफी शानदार है। कहानी पुरानी है पर उसे नए तरीके से पेश किया गया है। फ़िल्म में 3 अलग-अलग किरदार हैं, जो आपस मे जुड़े हुए हैं। वे सभी एक दूसरे के सहारे अपनी ख्वाहिशों को पूरा करना चाहते हैं।फिल्म में मोहन रावत नाम का लड़का है जो (आशीष) एक छोटे से शहर से माया नगरी मुंबई आता है। यहां आकर मोहन का  रहन सहन के साथ नाम में भी बदल जाता है।

फर्श से अर्श तक पहुंचने के लिए उसका नाम मोहन से अजफर हो जाता है  इसी बीच अजफर कास्टिंग काउच में फंस जाता है।  और उसका  शोषण भी होता है। फिल्म में रवीना सोनम मोदी का किरदार निभा रही हैं, जो कि एक बहुत अमीर औरत है। फिल्म में अजफर और सोनम के जिस कॉम्पटीशन में आशीष भाग लेते हैं वो तो वो हार जाते हैं लेकिन उस कॉम्पटीशन की जज रवीना टंडन का दिल जीत लेते हैं।

तो वहीं रैना (अर्पिता) अपनी छोटी बहन के साथ दिल्ली में शिफ्ट हुई हैं और एक होटल में काम करती हैं। रैना को अपने पड़ोसी के साथ समय बिताना पसन्द है। तीसरी कहानी एक ऐसे किरदार की है । जो एक होटल का मालिक है पर उसे एक लड़के से प्यार है। यह कहानी देश की राजधानी के उस रंग को बयान दिखाती है जिसमें छोटे शहरों और गावों से ख्वाब लेकर आए लोग तरह-तरह की दिक्कतों का सामना करते हैं। सीरीयस और समाज को आइना दिखाने वाली फिल्मों को पसंद करने वाले दर्शक बेशक इस फिल्म पर अपना वक्त और पैसा खर्च कर सकते हैं।

अपनी बेहतरीन ऐक्टिंग से रवीना ने एक बार फिर खुद को ऐसा बेहतरीन कलाकार साबित किया जो हर किरदार को आसानी से निभा सकती  है । मोहन के किरदार में आशीष परफेक्ट हैं, फिल्म के कई सीन में आशीष ने बेहतरीन परफोर्मेंस की है। रैना के किरदार मे अर्पिता बिलकुल फिट बैठी है। बाकी किरदारों ने अपना काम इंमानदारी से किया हैयह कहानी देश की राजधानी के उस रंग को बयान दिखाती है जिसमें छोटे शहरों और गावों से ख्वाब लेकर आए लोग तरह-तरह की दिक्कतों का सामना करते हैं। सीरीयस और समाज को आइना दिखाने वाली फिल्मों को पसंद करने वाले दर्शक बेशक इस फिल्म पर अपना वक्त और पैसा खर्च कर सकते हैं।

फिल्म में मिथुन का दिया हुआ म्यूजिक पहले ही लोगों के दिलों में अपनी जगह बना चुका है और लोग रोमांटिक गाने कही ना कहीं आपके दिल को छू जाते है। तो इस तरह मिथुन ने फिल्म में अपना काम बखूबी पूरा किया है।

डायरेक्टर ओनिर जिस तरह की कहानी के वो फेमस हैं यह एक दम वैसी ही कहानी है। अगर आपको ओनिर की पहले फिल्में पसंद आयीं थीं तो आपको यह फिल्म जरुर देखनी चाहिए।और मैं बता दू  ओनिर की फिल्म हर कोई नही देख सकता। ‘शब में दिमाग लगाना पड़ेगा बाकि आप खुद समझ गये होंगे। फिल्म के लिए ओनिर  ने कमाल का डायरेक्शन किया है। उनकी सोच गजब की है। फिल्म की सिनेमैटोग्राफी और एडिटिंग की भी तारीफ करनी होगी।

About Md. Muzammil

Check Also

फिट लुक के शुभारंभ के लिए गुरुग्राम पहुँची गौहर खान!

गुरुग्राम। शुकवार को बाँलीवुड की खूबसूरत सुंदरता, गौहर खान, अगस्त महीने के फिटकोक के कवर के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *