Wednesday , January 17 2018
Home / देश / ये है वो शख्स जिसने बनाया अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम की आर्थिक कमर तोड़ने का प्लान
PC: Kodmedia

ये है वो शख्स जिसने बनाया अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम की आर्थिक कमर तोड़ने का प्लान

नई दिल्ली: पिछले 23 वर्षो से लगभग हर हिंदुस्तानी एक ऐसे इंसान से वाकिब है जिसने कई लोगों की जान अपनी करतूतों से लिया है. हम बात कर रहे है मुंबई बम बलास्ट के मुख्य आरोपी और अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम का.

पर जब से केंद्र में मोदी सरकार आई है तब से इस डॉन की घरेने और पकड़ने के लिए खास रणनीति पर पिछले दो वर्षो से काम किया जा रहा है और इसके काले कारोबार को हर तरीके से बर्बाद और बंद करवाने की कोशिश की जा रही है। इस काम की जिम्मेदारी आर्थिक जांच एजेंसी प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के साथ-साथ आईबी और रॉ को सौंपी गई, पर इस खास मुहिम के रणनीतिकार एनएसए अजीत डोभाल रहे हैं।

पाकिस्तान में ही रॉ एजेंट के तौर पर कई वर्षो तक रह चुके अजीत डोभाल ने समन्वय का काम संभाला और इन एजेंसियों को दाऊद इब्राहिम के 16 देशों में संपत्तियों की पहचान करने और प्रमाणित दस्तावेज इकठ्ठा करने का निर्देश दिया। मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, पीएम नरेंद्र मोदी के ब्रिटेन और यूएई दौरों के पहले दाऊद इब्राहिम की संपत्तियों से जुड़े मुद्दों पर संबंधित देशों के अधिकारियों से बातचीत की गई। ताकि प्रधानमंत्री के दौरे के वक़्त इस मुद्दे को शीर्ष स्तर पर रखा जा सके।

दाऊद के विरुद्ध डोजियर में लंदन और दुबई में उसकी कई होटल, इमारतों और व्यावसायिक भवनों का पूरा डिटेल मौजूद है। ये डिटेल संयुक्त राष्ट्र को भी सौंपा गया है। इसके साथ ही आतंक के पनाहगार देश पाकिस्तान से भी दाऊद का काला चिट्ठा साझा किया गया है। यही कारण रही कि ईडी के अधिकारियों ने यूएई, ब्रिटेन सहित कई देशों का दौरा कर डॉन की संपत्ति से जुड़े दस्तावेज उन देशों के अधिकारियों के सामने रखे गए हैं। संयुक्त राष्ट्र द्वारा अंतरराष्ट्रीय आतंकी घोषित करने के वजह से सभी देशों पर यह जिम्मेदारी है कि वह उसकी संपत्तियों को जब्त करें या उसे किसी बैंकिंग लेनदेन की इजाजत न दें।

ज्यादातर संपत्तियां है रिश्तेदारों और करीबियों के नाम पर

जांच एवं खुफिया एजेंसियों के सामने सबसे बड़ी परेशानी ये है की 16 देशों में फैली दाऊद की संपत्तियों में अधिकतर उसके रिश्तेदारों और करीबियों के या उसके दूसरे ही फर्जी नामों पर थीं। ऐसे में सारी संपत्तियों की पहचान करने और संपत्ति के मालिक का दाऊद से रिश्ता साबित करना काफी मुश्किल काम है। अपने ऊपर शिकंजा कसते देख डॉन पिछले एक-डेढ़ वर्षो में अपनी संपत्तियों को बेचने और उससे मिले पैसे को पाकिस्तान लाने के प्रयास में है।

About Web Team

Check Also

राज्यों में ‘पद्मावत’ को बैन करने के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट पहुंचे फिल्म के निर्माता