Tuesday , August 22 2017
Home / देश / भारत के विकास से डरे नहीं, कुछ सबक ले चीन भारत से – चीनी मीडिया

भारत के विकास से डरे नहीं, कुछ सबक ले चीन भारत से – चीनी मीडिया

नई दिल्ली:रविवार को चीन ने एक अखबार ने भारत की बढ़ती ताकत को मानते हुए कहा कि भारत में विदेशी निवेश की बाढ़ सी आ गई है। इससे भारत के विनिर्माण क्षेत्र को निश्चित रूप से बल मिलेगा और चीन को इसके बावजूद शांत रहना होगा और विकास को बढाने के लिए नई नीतियों पर काम करना शुरू करना होगा।

अखबार ने यह भी कहा कि विदेशी विनिर्माताओं के निवेश का भारी प्रवाह भारत की अर्थव्यवस्था, रोजगार और औद्योगिक विकास के लिए काफी मायने रखता है। भारत के विकास पर चीन को शांति रखनी होगी और भारत के साथ प्रतिस्पर्धा करने के लिए चीन को अब ऐसी प्रभावी वृद्धि रणनीति पर काम शुरू करना होगा जो नए युग के लिए पूरी तरह से तैयार हो। विदेशी विनिर्माताओं के आने से भारत की कुछ कमजोरियां दूर होंगी और और इसके विनिर्माण की क्षमता बढ़ेगी। चीनी कंपनियां भी भारत की विकास प्रक्रिया में एक महत्त्वपूर्ण भूमिका निभा रही हैं।

चीन की सरकारी मीडिया ने कहा है कि भारत, म्यांमार और चीन के बीच त्रिपक्षीय संवाद भविष्य में एक दिलचस्प विषय होगा क्योंकि इसका क्षेत्र के व्यापक भूराजनीतिक एवं आथर्कि महत्व होगा।

समाचार पत्र ‘ग्लोबल टाइम्स’ में प्रकाशित एक लेख में कहा गया है, “म्यांमार के लिए कोई शत्रु नहीं की नीति सर्वश्रेष्ठ रणनीतिक विकल्प है। फिलहाल के लिए उसे चीन और भारत के बीच के विवाद का फायदा हुआ है।” लेख में कहा गया कि चीन पर अपनी निर्भरता को कम करने, अपनी आथर्कि स्थिति को विविध बनाने के लिए म्यांमार भारत के साथ अपने संबंधों को बढ़ा रहा है।

अखबार के अनुसार इन बातों को ध्यान में रखते हुए त्रिपक्षीय संवाद एक दिलचस्प विषय होगा क्योंकि इसका क्षेत्र के लिए व्यापक भूराजनीतिक एवं आथर्कि महत्व होगा। चीनी अखबार में यह लेख उस वक्त प्रकाशित हुआ है जब पिछले दिनों म्यांमार के सेना प्रमुख का आठ दिवसीय भारत का दौरा संपन्न हुआ।

About Md. Muzammil

Check Also

भारत का सबसे बड़ा कुश्ती कार्यक्रम ‘अनूठा युद्ध’

एफएफडब्ल्यू (फ्रीक फाइटर रेसलिंग) नेटवर्क प्राइवेट लिमिटेड, उद्यमियों की एक टीम की दिमागी उपज है, …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *