Saturday , August 19 2017
Home / राज्य / उत्तर प्रदेश / स्लॉटर हॉउस बैन मामला: सीएम से मुलाकात के बाद मीट कारोबारियों की हड़ताल खत्म
up meat traders, ends strike, meeting with cm, yogi adityanath, योगी आदित्यनाथ, मीट कारोबारी, हड़ताल, यूपी, स्लॉ़टरहॉउस, सिद्धार्थनाथ सिंह

स्लॉटर हॉउस बैन मामला: सीएम से मुलाकात के बाद मीट कारोबारियों की हड़ताल खत्म

लखनऊ। पिछले पांच दिनों से हड़ताल कर रहे मीट कारोबारी काम पर लौट आए हैं। उन्होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यानाथ से मुलाकात के बाद इसका फैसला लिया। मुख्यमंत्री से मुलाकात के बाद मीट कारोबारियों के प्रतिनधि सिराजुद्दीन कुरैशी ने कहा कि मैं सभी से काम पर लौटने की अपील करता हूं। लाइसेंस लेकर काम शुरू करें। सरकार इसमें मदद करेगी।
यूपी सरकार के प्रवक्ता सिद्धार्थनाथ सिंह ने कहा कि बैठक अच्छी और सकारात्मक रही। मुख्यमंत्री ने मीट व्यापारियों से काम पर लौटने को कहा। सरकार की ओर से स्पष्ट किया गया कि कारोबारियों को एनजीटी के आदेश का पालन करना होगा। सीएम ने आदेश दिया है कि अधिकारी जाति-धर्म देखकर कार्रवाई ना करें।
सिद्धार्थनाथ सिंह ने यह भी कहा कि बैठक में मौजूद सभी प्रतिनिधियों ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का समर्थन किया और कहा कि भारतीय नागरिक के तौर पर सभी कि जिम्मेदारी है कि कुछ भी अवैध होने की छूट ना दी जाए।


मीट कारोबारियों का नेतृत्व करने वाले सिराजुद्दीन कुरैशी ने बताया कि हमने अपनी परेशानियां सीएम को बताईं। हमनें उनसे कहा कि मीट कारोबारियों से अवैध वसूली की जाती है। मुख्यमंत्री ने हमारी बात को ध्यान से सुना और भरोसा दिलाया कि जाति या धर्म के नाम पर भेदभाव नहीं किया जाएगा। दुकानदार लाइसेंस के लिए आवेदन करें। सरकार ने बूचड़खानों को आधुनिक बनाने की बात कही है।
बता दें कि अवैध बूचड़खानों के खिलाफ सख्ती के बाद उत्तर प्रदेश में मीट कारोबारी हड़ताल पर चले गए थे। यूपी बीजेपी ने चुनाव घोषणापत्र में कहा था कि सरकार बनाने के कुछ ही समय के अंदर अवैध बूचड़खानों पर ताला लटका दिया जाएगा।

About Anchal Shukla

Young journalist from New Delhi. कराटे में ब्लैकबेल्ट चैंपियन। भरतनाट्यम, कुचिपुड़ी की प्रशिक्षु नृत्यांगना। लचीली पर बेहद मजबूत। राजनीति से लेकर खेलों(हर तरह के खेल), मनोरंजन(हर इंडस्ट्री की खबरें), व्यापार, अंतर्राष्ट्रीय खबरें(व्यापार, तनाव, युद्ध) के साथ ही साहित्य में भी रूचि। सबकुछ समेटे और समाज की बुराइयों से लड़ने की ताकत रखने वाली मजबूत कलमकार बनने की कोशिश...

Check Also

Movie Review: क्लास ऑडियंस के लिए बनी है फिल्म ‘पार्टीशन 1947’

अगर एक लाइन में ‘पार्टीशन 1947’ के बारे में कहा जाए, तो ये खाली एंटरटेनमेंट …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *