Tuesday , February 20 2018
Home / लेटेस्ट न्यूज / नॉर्थ कोरिया पर नए प्रतिबंध लगाने की तैयारी में अमेरिका, 11 सितंबर को संयुक्त राष्ट्र की बैठक
PC: Reuters UK

नॉर्थ कोरिया पर नए प्रतिबंध लगाने की तैयारी में अमेरिका, 11 सितंबर को संयुक्त राष्ट्र की बैठक

वॉशिंगटन: उत्तर कोरिया आज पूरे विश्व का सिरदर्द बन चूका है. उत्तर कोरिया के बार-बार के परमाणु धमाकों ने पूरे दुनिया के नेताओं के माथे पर सुरक्षा को लेकर चिंता की लकीरें खींच दी हैं.

हाल ही में उत्तर कोरिया ने हाइड्रोजन बम का परीक्षण किया है, जिसके बारे में उसका दावा है कि यह परीक्षण सफल रहा है. परमाणु परीक्षणों को लेकर उत्तर कोरिया अपने सबसे बड़े  हिमायती देश चीन की भी नहीं सुनता है. मैक्सिको ने उत्तर कोरिया के राजदूत को देश से निकाल भी दिया है. वही अमेरिका सहित कई देश उस पर प्रतिबंध और तेज करने की बात कर रहे हैं.

अमेरिका ने तो बकायदा उत्तर कोरिया पर नए प्रतिबंध लगाने संबंधी एक मसौदा प्रस्ताव पर मतदान के लिए संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की एक बैठक भी बुलाई है. संयुक्त राष्ट्र में अमेरिकी दूतावास ने शुक्रवार (8 सितंबर) रात को घोषणा की थी कि उत्तर कोरिया द्वारा हाल ही में किए गए परमाणु परीक्षण के जवाब में मसौदा प्रस्ताव पर 11 सितंबर को मतदान किया जा सकता है. पिछले सप्ताह सुरक्षा परिषद की एक आपातकालीन बैठक में संयुक्त राष्ट्र की अमेरिकी राजदूत निकी हेली ने घोषणा की थी उनका प्रतिनिधिमंडल सुरक्षा परिषद के सदस्यों को प्रस्ताव का मसौदा वितरीत कर रहा है. उत्तर कोरिया ने तीन सितंबर को एक हाइड्रोजन बम का परीक्षण किया था, जिसे एक अंतरमहाद्विपीय बैलिस्टिक मिसाइल (आईसीबीएम) द्वारा ले जाया जा सकता है. उत्तर कोरिया के परमाणु परीक्षण यूएनएससी के प्रस्तावों को उल्लंघन हैं.

उत्तर कोरिया द्वारा इस सप्ताहांत अंतरमहाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइल का परीक्षण किए जाने के अंदेशे के बीच दक्षिण कोरिया में हाई अलर्ट है. ऐसी संभावना है कि उत्तर कोरिया अपनी स्थापना की 69वीं वर्षगांठ पर परमाणु परीक्षण कर सकता है. दक्षिण कोरिया के यूनिफिकेशन मंत्री चो मयंग-ग्योन ने शुक्रवार (8 सितंबर) को कहा कि देश उत्तर कोरिया को परमाणु प्रौद्योगिकी विकसित करने से रोकने के सभी तरीकों को खंगाल रहा है. चो ने कहा, “दक्षिण कोरिया चाहता है कि उत्तर कोरिया शांतिपूर्ण तरीके से परमाणु निरस्त्रीकरण के लक्ष्य को हासिल करे.”

पिछले साल उत्तर कोरिया ने अपने स्थापना दिवस की 68वीं वर्षगांठ पर पांचवा परमाणु परीक्षण किया था. दक्षिण कोरिया की खुफिया एजेंसियों ने सप्ताह के शुरुआत में कहा था कि उन्हें संदेह है कि किम जोंग उन के निर्देशन में 10 अक्टूबर को एक और परमाणु परीक्षण हो सकता है. इस दिन उत्तर कोरिया वर्कर्स पार्टी का 72वां स्थापना दिवस मना रहा होगा. उत्तर कोरिया ने हाल के कुछ महीनों में अपने हथियार विकास कार्यक्रमों को बढ़ाया है, जिसकी अंतर्राष्ट्रीय समुदाय निंदा भी कर रहा है.

उत्तर कोरिया की सरकारी मीडिया ने बढ़ते अंतरराष्ट्रीय प्रतिबंधों को नजरअंदाज करते हुए देश के स्थापना दिवस पर और परमाणु हथियारों का निर्माण करने की शनिवार (9 सितंबर) को अपील की. दक्षिण कोरियाई सेना ने कहा कि वह उत्तर कोरिया पर करीबी नजर बनाए हुए है. उसका यह बयान ऐसे समय में आया है जब अटकलें लगाई जा रही हैं कि उत्तर कोरिया अपने स्थापना दिवस पर एक और मिसाइल प्रक्षेपण या एक अन्य परमाणु परीक्षण कर सकता है. उत्तर कोरिया की स्थापना 1948 में हुई थी.

उत्तर कोरिया ने पिछले साल नौ सितंबर को ही पांचवां परमाणु परीक्षण किया था. उसने एक सप्ताह पहले ही छठा परीक्षण किया और दावा किया कि यह एक हाइड्रोजन बम था जो मिसाइल पर लगाया जा सकता है. इस कदम की वैश्विक स्तर पर निंदा हुई और उत्तर कोरिया के खिलाफ प्रतिबंध और कड़े करने की अपील की गई. उत्तर कोरिया ने जुलाई में भी दो अंतरमहाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइलों का परीक्षण किया था.

About Team Web

Check Also

‪‪Punjab National Bank‬, ‪Nirav Modi‬, ‪Narendra Modi‬‬,Punjab National Bank‬, ‪Securities and Exchange Board of India‬, ‪Reserve Bank of India,pnb share price,Punjab National Bank‬, ‪Mukesh Ambani‬, ‪Dhirubhai Ambani‬‬

PNB को चूना लगाने वाले नीरव मोदी और उसके परिवार के भागने की ये है तारीखें!